Pahaad Connection
Breaking News
उत्तराखंड

युवा कल्याण एवं प्रान्तीय रक्षक दल विभाग की समीक्षा बैठक आयोजित

Advertisement

देहरादून।

प्रदेश की युवा कल्याण मंत्री रेखा आर्या ने आज विधान सभा स्थित कक्ष में विभागीय अधिकारियों के साथ युवा कल्याण एवं प्रान्तीय रक्षक दल विभाग की समीक्षा बैठक ली। मंत्री ने कहा कि चार धाम यात्रा पर तैनात पीआरडी कार्मिकों के 04 माह से लंबित मानदेय को एक सप्ताह के भीतर भुगतान कर दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि एसडीआरएफ में कार्यरत पीआरडी कार्मिकों का भी मानदेय एक सप्ताह के भीतर भुगतान कर दिया जायेगा। मंत्री ने पीआरडी जवानों को 300 दिनों के रोजगार देने पर विशेष बल देते हुए कहा कि पीआरडी जवानों को विभिन्न विभागों में विभिन्न पदों जैसे कम्प्यूटर आपरेटर, माली, ड्राइवर, कुुकिंग तथ फार्मासिस्ट को योग्यता के अनुसार रोजगार के अवसर प्रदान किये जायेंगे। मंत्री ने पीआरडी कार्मिकों को सेवानिवृत्ति पर एकमुश्त आर्थिक सहायता देने हेतु अधिकारियों को प्रस्ताव बनाने के लिए निर्देश दिये।

Advertisement

उन्होेंने कहा कि पीआरडी कार्मिकों का एक दिवसीय मानदेय के आधार पर सरकार के अशंदान के साथ जोड़कर एकमुश्त आर्थिक सहायता के रूप में सेवानिवृत्ति पर प्रदान किया जायेगा। मंत्री ने सेवारत पीआरडी कार्मिक की मृत्यु पर उसके परिवार से उसके पुत्र या पत्नी को मृतक आश्रित के तौर पर नियुक्ति देने हेतु अधिकारियों को दिशा निर्देश देते हुए नियमावली में संशोधन करने को कहा। मंत्री ने पीआरडी महिला कार्मिकों को मातृत्व अवकाश दिये जाने पर सहमति जताते हुए कहा कि इस संबंध में प्रस्ताव को जल्द से जल्द कैबिनेट में रखा जायेगा। मंत्री ने पीआरडी कार्मिकों की सेवानिवृत्ति की आयु 50 वर्ष से बढ़ाकर 60 वर्ष करने हेतु नियमावली में जरूरी संशोधन करने के निर्देश दिये।

उन्होंने कहा कि जिस विभाग में पीआरडी कार्मिक की नियुक्ति की जायेगी, उनके मानदेय के भुगतान का सम्पूर्ण दायित्व संबंधित विभाग का होगा, जिसका जल्द से जल्द शासनादेश लाया जायेगा। इस अवसर पर बैठक में विशेष प्रमुख सचिव युवा कल्याण अभिनव कुमार, निदेशक युवा कल्याण एवं पीआरडी जितेन्द्र सोनकर तथा अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

Advertisement
Advertisement

Related posts

उत्तराखंड लोक सेवा आयोग ने जारी की परीक्षा की नई तिथि

pahaadconnection

मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने मुख्यमंत्री आवास पर दीपावली की बधाई देने आए अधिकारियों से राज्य के विकास पर चर्चा की.

pahaadconnection

जोशीमठ में भू-धंसाव प्रभावित भवनों की संख्या बढ़कर 863 हुई

pahaadconnection

Leave a Comment