Pahaad Connection
Breaking Newsउत्तराखंड

जिला पंचायत की बैठक आयोजित

Advertisement

देहरादून, 18 जून। जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती मधु चौहान की अध्यक्षता में जिला पंचायत सभागार में जिला पंचायत की बैठक आयोजित की गई। बैठक में गत बैठक में दिये गए निर्देशों एवं लिए गए निणर्यों की कार्यवाही की समीक्षा, जिला योजना वर्ष 2024-25 के लिए जनपद के ग्रामीण क्षेत्रों की विकास योजना के अनुमोदन, विकासखण्डो से मनरेगा के अन्तर्गत प्राप्त प्रस्तावों के अनुमोदन पर विचार आदि बिन्दुओं पर  विस्तार पूर्वक चर्चा हुई। बैठक में उपस्थित सदस्यों द्वारा क्षेत्रों पानी की किल्लत, सड़क, जगंली जानवरों के आबादी क्षेत्र में घुसने एवं फसलों का नुकशान पंहुचाने, प्लांटेशन के तहत् लगाये गये पौधों के रखरखाव, ग्रामीण क्षेत्रों में लगी स्ट्रीट लाईटों को ठीक करने आदि मुद्दे एवं समस्याएं उठायी। बैठक  अध्यक्ष जिला पंचायत श्रीमती मधु चौहान ने सम्बन्धित विभागों के अधिकारियों को निर्देशित किया कि विकास योजनाओं के प्रस्ताओं को अनुमोदन हेतु लाने से पूर्व क्षेत्र के स्थानीय जनप्रतिनिधियों के संज्ञान में लाया जाए तथा जनप्रतिनिधियों द्वारा दिये गए प्रस्तावों को गंभीरता से लेते हुए कार्य येाजना में शामिल किये जाएं। अध्यक्ष के सम्मुख क्षेत्र पंचायत प्रमुखों द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में लगी स्ट्रीट लाईट की खराब होने की शिकायत पर संज्ञान न लिए जाने को गंभीरता से लेते हुए सम्बन्धित कम्पनी को ब्लैक लिस्ट करने के निर्देश उरेडा के अधिकारियों को दिए। क्षेत्र पंचायत सदस्यों द्वारा अपने-अपने क्षेत्रों में पानी की समस्या तथा चकराता क्षेत्र पर्यटकों की बढती आमद को दृष्टिगत रखते हुए पर्यटन स्थलों में पानी व्यवस्था तथा भविष्य की संभावनाओं को देखते हुए योजना बनाने के निर्देश दिए। खैरीकला जलसंस्थान की पाईपलाईन बिछी होने के उपरान्त भी पानी नही आने, धारकोट में पानी की समस्या तथा जल स्त्रोत के  संवर्धन किये जाने की की समस्याओं से स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने सदन में रखा। जिस पर माननीय अध्यक्ष ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि प्रभावी योजना बनाने के साथ ही जल संवर्धन एवं जल स्त्रोतों के संरक्षण एवं संरक्षण के लिए स्थानीय लोगों एवं जनमानस का सहयोग लिया जाए। वहीं स्थानीय जनप्रतिनिधि द्वारा क्षेत्र में जलसंस्थान द्वारा क्षेत्र में पेयजल लाईन हेतु खोदी गई सड़क को ठीक न किये जाने की शिकायत की गई जिस पर सम्बन्धित विभागों को कार्यपूर्ण होते ही सड़क समतलीकरण किये जाने के निर्देश दिए गए। लोक निर्माण विभाग के कार्यों की समीक्षा के दौरान सड़क सुधारीकरण एवं सड़क डामरीकरण, पेन्टिगं आदि मुद्दे सम्बन्धित जनप्रतिनिधियों द्वार उठाये गए जिस पर लोनिवि के अधिकारियों ने वर्तमान में संचालित कार्यों को वर्ष 2024-25 में प्रस्तावित कार्यों की जानकारी दी गई। वन्यजीव एवं मानव संघर्ष की बढती घटनाओं की रोकथाम में सोलर फेंसिग कार्य करवाने के निर्देश वन विभाग के अधिकारियों को दिए गए। मानव वन्यजीव संघर्ष कम करने तथा वन्यजीवों को आबादी क्षेत्रों से बाहर रखने जाने हेतु प्रभावी योजना बनाने तथा खेती को नुकसान पंहुचाने आदि घटनाओं  की रोकथाम हेतु प्रभावी योजना बनाने के निर्देश दिए। बैठक में  उपाध्यक्ष जिला पंचायत श्याम सिंह पुण्डीर, मुख्य विकास अधिकारी सुश्री झरना कमठान, मा0 सदस्य रामपाल, मदन लाल, श्रीमती मीरा जोशी,  श्रीमती अंजिता पंवार , गीताराम तोमर, श्रीमती बनिता, श्रीमती दयावती, हरिबहादुर, धीरज, श्रीमती अंजु जोशी, प्रशांत कुमार जैन, श्रीमती पूजा रावत, राजेश बलूनी, श्रीमती रंजिता, श्रीमती खेमलता, श्रीमती नाजनीन नुसरत, श्रीमती रिहाना खातून, अश्वनी बहुगुणा, बीर सिंह सहित समति के सदस्य एवं सम्बन्धित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

 

Advertisement

 

Advertisement
Advertisement

Related posts

जिलाधिकारी ने किया माउंटेन टेरेन बाइक रैली को रवाना

pahaadconnection

तीर्थ नगरी की पौराणिक रामलीला का हुआ विधिवत शुभारंभ

pahaadconnection

परीक्षा केंद्र के पास लागू रहेगी धारा 144

pahaadconnection

Leave a Comment