Pahaad Connection
Breaking Newsउत्तराखंड

बीस करोड़ की डकैती लचर कानून व्यवस्था का परिणाम : डॉ जसविन्दर सिंह गोगी

Advertisement

देहरादून, 14 नवम्बर। देहरादून में 09 नवम्बर को रिलायंस ज्वेलरी शोरूम में हुई बीस करोड़ की डकैती को राज्य सरकार की विफलता और लचर कानून व्यवस्था का परिणाम बताते हुए महानगर अध्यक्ष डॉ जसविन्दर सिंह गोगी के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने महामहिम राज्यपाल उत्तराखंड को जिलाधिकारी देहरादून के माध्यम से ज्ञापन प्रेषित किया। गोगी ने कहा कि राज्य की राजधानी में, और राजधानी के केंद्रीय क्षेत्र में जहाँ महत्वपूर्ण प्रतिष्ठान अवस्थित हैं, तथा राज्य की स्थापना दिवस के दिन और जिस दिन देश की राष्ट्रपति भी शहर में थीं, ऐसी डकैती की घटना स्पष्ट संकेत है कि भाजपा सरकार कर राज में न कानून व्यवस्था ठीक है न शासन- प्रशासन। मुख्यमंत्री कह रहे हैं कि राज्य में इन्वेस्टर समिट कराने जा रहे हैं, क्या डकैती की ऐसी घटना से वो निवेशकों को संदेश दे रहे हैं ? छह दिन बाद भी पुलिस चोरों को पकड़ना तो दूर, उनके बारे में कुछ पता तक नहीं कर पाई है। विगत महीनों में पहले तो देहरादून शहर नें डेंगू की विकराल समस्या झेली। कई लोगों की असामयिक मृत्यु हुई। सरकार केवल डेंगू से हुई जनहानि को छुपाने में लगी रही। उसके बाद रजिस्ट्री घोटाले सामने आए और अब इतनी बड़ी डकैती का मामला, तो ऐसे में सरकारी तन्त्र की प्रभावी मौजूदगी कहीं नहीं दिखती और लोगों को उनके हाल पे छोड़ दिया गया है। इस अवसर पर मुख्य रूप से प्रदेश उपाध्यक्ष पूरन सिंह रावत प्रदेश, श्रीमती उर्मिला थापा महानगर अध्यक्ष महिला कांग्रेस, महानगर उपाध्यक्ष अभिषेक तिवारी, राजेश उनियाल, विकास पुंडीर, लकी राणा, सावित्री थापा, पूनम कंडारी, आलोक मेहता, कासिर्फ़ ज़ैदी, ललित बदरी, राजेश पुंडीर, मुकीम अहमद, जितेंद्र तनेजा, अनुराग गुप्ता, अल्ताफ अहमद, आदर्श सूद, वीरेंद्र पवार थापा, महबूब, उदय सिंह रावत, नरेश बांगवाल, रोहित शर्मा, मुकेश सिंह, संजय गौतम, अशोक कुमार, बिजेंदर चौहान, प्रेम सिंह, शाहनवाज, प्रवीण भारद्वाज, महताब आलम आदि उपस्थित थे।

 

Advertisement

 

Advertisement
Advertisement

Related posts

सीएम ने प्रदान किए 15 रक्षकों को नियुक्ति पत्र

pahaadconnection

पेड से टकराकर बाइक दुर्घटनाग्रस्त, आईटी कंपनी के इंजीनियर की मौत

pahaadconnection

ट्रांजिट रिमाण्ड पर लाये गये 2 अभियुक्तों को 14 दिन की न्यायिक अभिरक्षा में भेजा जेल

pahaadconnection

Leave a Comment