Pahaad Connection
Breaking Newsउत्तराखंड

जिलाधिकारी ने जारी किये आवश्यक दिशा निर्देश

Advertisement

बागेश्वर। जिलाधिकारी अनुराधा पाल ने शीत ऋतु में शीतलहर से बचाव एवं तैयारी के दृश्टिगत जिला कार्यालय सभागार में संबंधित विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक लेते हुए आवश्यक दिशा निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारियों को निर्देश दिए कि अपने स्तर पर संबंधित अधिकारियों के साथ अपने-अपने क्षेत्र मे रैनबसेरे चयन करते हुए उनमें साफ-सफाई, शौचालय, पानी, पेयजल, बिस्तर व कंबल आदि की पूर्ण व्यवस्था कर ली जाय। उन्होंने उपजिलाधिकारी, ईओ व अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत को अपने क्षेत्र में अलाव जलाने के लिए पर्याप्त लकड़ी की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। उन्होंने जिला पूर्ति अधिकारी को अधिक बर्फंबारी वाले क्षेत्रों में खाद्य रसद का पूर्ण स्टाॅक समय से भिजवाने के निर्देश दिए। स्वास्थ विभाग को पर्याप्त दवाई सहित अन्य महत्वपूर्ण सामग्री का स्टाॅक रखने को कहा। सड़क महकमे के अधिकारियों को संवेदनशील सड़क मार्गो का चिन्हिकरण करते हुए उनमें जेसीबी तैनात करने के निर्देश दिए, ताकि मार्ग अवरूद्ध होने पर जल्द से जल्द यातायात के लिए सुचारू किया जा सके। पाला संभावित क्षेत्रों में चेतावनी बोर्ड लगाने और नियमित चूने व नमक का छिड़काव करने के निर्देश दिए। ईई विद्युत को बर्फबारी वाले क्षेत्रों में वैकल्पिक व्यवस्था रखने, जल संस्थान के अधिकारियों को पेयजल व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। दूरसंचार विभाग को संचार व्यवस्था के लिए सभी व्यवस्थाएं समये से करने  को को कहा। पशुपालन विभाग द्वारा दवाईयां सहित पशुआहार की उपलब्धता सुनिश्चित की जाय। जिलाधिकारी ने कहा अधिकारी शीतलहरी से निपटने के लिए पर्याप्त संसाधन रखने के साथ ही एक-दूसरे से समन्वय करते हुए कार्य करना सुनिश्चित करेंगे। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी आरसी तिवारी, परियोजना निदेशक शिल्पी पंत, उपजिलाधिकारी अनुराग आर्या, जिला विकास अधिकारी संगीता आर्या, ईई लोनिवि डीएस कुटियाल, अमित कुमार, पीएमजीएसवाई विजेंद्र, अमरीश रावत, जल संस्थान सीएस देवड़ी, जल निगम वीके रवि, ग्रामीण निर्माण विभाग एस भारती, जिला उद्यान अधिकारी आरके सिंह, जिला पूर्ति अधिकारी मनोज कुमार बर्मर, अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत राजेश कुमार, खेल अधिकारी गुंजन बाला, आपदा प्रबंधन अधिकारी शिखा सुयाल समेत अन्य विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

 

Advertisement

 

 

Advertisement
Advertisement

Related posts

जिलाधिकारी ने सुनी जन समस्याएं

pahaadconnection

गुलज़ार ने लिखी थी फ़िल्म ‘गुड्डी’ की कहानी

pahaadconnection

अतिक्रमण को लेकर कांग्रेस सरकार के जनविरोधी निर्णय के लिए उपवास करें हरीश : कैंथोला

pahaadconnection

Leave a Comment