Pahaad Connection
Breaking News
Breaking Newsउत्तराखंड

1 जुलाई से लागू होने जा रहे तीन नये कानून

Advertisement

देहरादून 16 जून। आज अपर पुलिस महानिदेशक अपराध एवं कानून व्यवस्था उत्तराखण्ड एपी अंशुमान द्वारा समस्त जनपद एवं परिक्षेत्र प्रभारियों के साथ वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से बैठक आहूत कर 01 जुलाई से 03 नये कानूनों (भारतीय न्याय संहिता 2023, भारतीय नागरिक सुरक्षा संहिता 2023 एव भारतीय साक्ष्य अधिनियम 2023) के सफल क्रियान्वयन एवं अपराध की समीक्षा की गयी। अपर पुलिस महानिदेशक अपराध एवं कानून व्यवस्था उत्तराखण्ड द्वारा 01जुलाई से 03 नये कानूनों के क्रियान्वयन के लिये पूर्ण तैयारियां करने, अपराधों में कमी लाने, अपराधों के शीघ्र अनावरण कर विवेचनाओं को निर्धारित समयावधि के अन्दर गुण-दोष के आधार निस्तारण किये जाने के सम्बन्ध में निर्देश जारी किये। 03 नये कानूनों के सफल क्रियान्वयन के लिये 01 जुलाई से पूर्व सभी जनपद प्रभारी घटनाओं की मॉक ड्रील कराते हुए पूर्ण तैयारियां करना सुनिश्चित करें, किसी भी स्तर पर कोई चूक न हो और जनपदों में नियुक्त सभी अधि/ कर्म० को नये कानूनों की धाराओं की पूर्ण जानकारी हो, यह भी सुनिश्चित करेंगे। 03 नये कानूनों के क्रियान्वयन हेतु थाना स्तर पर सीएलजी, ग्राम चौकीदारों, ग्राम सुरक्षा समिति, जनप्रतिनिधियों, अधिवक्ताओं आदि के साथ बैठक आहूत कर जागरुकता कार्यक्रम आयोजित कराये जाये तथा नये कानूनों को लागू करने की दिशा में आपसी समन्यय हेतु 01 जुलाई से पूर्व सभी जनपद प्रभारी जिला मॉनिटरिंग सैल की बैठक कराकर विचार-विमर्श करना सुनिश्चित करें। जिन अधि. कर्मचारी द्वारा नये कानूनों का प्रशिक्षण नहीं किया गया है, उन अधि./कर्म। को 15 दिवस के अन्दर प्रशिक्षण कराना सुनिश्चित करेंगे। जनपद प्रभारी अपराधों की नियमित रूप से समीक्षा करते हुए अपराधों के शीघ्र अनावरण, निरोधात्मक कार्यवाही एवं अपराधों की रोकथाम हेतु अग्रेत्तर कार्यवाही करना सुनिश्चित करें। सभी जनपद प्रभारी अपने-अपने जनपदों में अपराध की रोकथाम हेतु प्रत्येक थाना स्तर पर सी०एल०जी०, ग्राम सुरक्षा समितियों आदि के साथ बैठक आहूत कराकर, गस्त/पिकेट में बढ़ोतरी एवं निरोधात्मक कार्यवाही कराना सुनिश्चित करें। जिन प्रकरणों का निर्धारित अवधि के अन्दर अनावरण नहीं हुआ है, उनका अविलम्व गुणदोष के आधार पर अनावरण कराते हुए अभियुक्तों की शीघ्र गिरफ्तारी कराना सुनिश्चित करें। जांच हेतु विधि विज्ञान प्रयोगशाला भेजे गये प्रदर्शों की शीघ्र जांच रिपोर्ट मंगाकर प्रकरणों का निस्तारण कराया जाये। विशेषकर महिलाओं से सम्बन्धित अपराधों का अनावरण कराकर समयान्तर्गत चार्जशीट पुलिस रिपोर्ट को माननीय न्यायालय प्रेषित की जाये।

गुमशुदाओं की बरामदगी हेतु शीघ्र अग्रेत्तर आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित की जाये तथा पोस्मार्टम/ पंचायतनामा रजिस्टर को भी अध्यावधिक कराकर गुमशुदाओं के डाटा मिलान के सम्बन्ध में अग्रेत्तर आवश्यक कार्यवाही की जाये। सड़क दुर्घटनाओं का जनपद प्रभारी स्वंय समीक्षा कर सड़क दुर्घनाओं की रोकथाम हेतु सुरक्षात्मक उपाय एव चैकिंग आदि की कार्यवाही कराना सुनिश्वि करें। थानों/चौकियों के मालखानों में योग्य कार्मिकों को नियुक्त करते हुए मालखानों में रखे मालों का मिलान, निरीक्षण कराकर मालों के नियमानुसार निस्तारण की कार्यवाही कराना सुनिश्चित करें। 17-06-2024 की ईद-उल-जुहा (बकरीद) पर्व को सकुशल सम्पन्न कराये जाने हेतु शान्ति समितियों की बैठकें कराये जाने, सोशल मीडिया पर प्रसारित होने वाली पोस्टों की निगरानी करने, पर्याप्त मात्रा में पुलिस पीएसी बल नियुक्त करने हेतु निर्देशित किया गया। बैठक में उक्त के अतिरिक्त पुलिस महानिरीक्षक, अभिसूचना, पुलिस महानिरीक्षक/निदेशक यातायात, पुलिस महानिरीक्षक, गढ़वाल परिक्षेत्र, पुलिस उप महानिरीक्षक, प्रो/मार्ड) एसटीएफ सीसीटीएनएस, पुलिस उप महानिरीक्षक, अपराध एवं कानून व्यवस्था, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, एसटीएफ, पुलिस अधीक्षक, अपराध एवं कानून व्यवस्था, पुलिस अधीक्षक, रेलवेज सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

Advertisement

 

Advertisement
Advertisement

Related posts

वित्त मंत्री ने की “बिल लाओ ईनाम पाओ” योजना के 15वें एवं 16वें लकी ड्रॉ की घोषणा

pahaadconnection

स्वास्थ्य मंत्री ने केंद्रीय मंत्रियों को दिया चार धाम यात्रा पर आने का निमंत्रण

pahaadconnection

लोकसभा सामान्य निर्वाचन-2024 की तैयारियों की समीक्षा

pahaadconnection

Leave a Comment