Pahaad Connection
Breaking News
उत्तराखंड

उत्तराखंड : वाटरशेड में फर्जी नियुक्ति पर सरकार ने लिया संज्ञान, प्रमुख सचिव ने दिए जांच के आदेश

Advertisement

कुछ लोग जलागम में भर्ती के नाम पर सोशल मीडिया जैसे व्हाट्सएप आदि के माध्यम से धोखाधड़ी कर रहे हैं। इस संबंध में विभाग की ओर से पुलिस प्रशासन में लिखित शिकायत दर्ज कराई गई है। अपर प्रधान सचिव आनंद वर्धन ने कहा कि यह मामला उनके संज्ञान में आया है. जलागम में नियुक्ति संबंधी विज्ञप्ति पूरी तरह फर्जी है।

राज्य में वाटरशेड प्रबंधन परियोजना में भर्ती के नाम पर धोखाधड़ी का मामला सरकार ने संज्ञान में लिया है. इस संबंध में प्रमुख सचिव आनंद वर्धन द्वारा जारी निर्देशों के बाद जलागम की ओर से पुलिस प्रशासन में शिकायत दर्ज कराई गई है.

Advertisement

जलागम की परियोजना निदेशक नीना ग्रेवाल की ओर से विज्ञप्ति जारी कर कहा गया है कि पिछले कुछ दिनों से यह बात सामने आई है कि कुछ लोग वाट्सएप आदि सोशल मीडिया के माध्यम से वाटरशेड में भर्ती के नाम पर फर्जीवाड़ा कर रहे हैं. जलगाम विकास प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना फेज-20 के अंतर्गत जिला स्तरीय कार्यालयों में संविदा आधार पर नियुक्तियों की सूचना किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा प्रसारित की जा रही है।

इसमें विश्व बैंक द्वारा वित्त पोषित वारणी कृषि परियोजना के तहत विभिन्न जिला स्तरीय कार्यालयों के पदों पर संविदा के आधार पर नियुक्ति के लिए फर्जी विज्ञप्ति जारी की गयी थी. यह विज्ञप्ति वाटरशेड प्रबंधन निदेशालय, देहरादून द्वारा जारी की गई है। उन्होंने स्पष्ट किया कि ये सभी नियुक्तियां और रिलीज पूरी तरह से अवैध और फर्जी हैं। विभाग द्वारा ऐसा कोई विज्ञापन या विज्ञप्ति जारी नहीं की गई है।

Advertisement

इस संबंध में विभाग की ओर से पुलिस प्रशासन से लिखित शिकायत की गई है। अपर प्रधान सचिव आनंद वर्धन ने कहा कि यह मामला उनके संज्ञान में आया है. जलागम में नियुक्ति संबंधी विज्ञप्ति पूरी तरह फर्जी है। इस संबंध में पुलिस प्रशासन में शिकायत दर्ज कर जांच के निर्देश दिए गए हैं।

Advertisement
Advertisement

Related posts

कब्र से निकलवाया आठ साल के बच्चे का शव

pahaadconnection

अंतराष्ट्रीय वैश्य महासम्मेलन महानगर ने की कार्यकारिणी की घोषणा

pahaadconnection

रं- कम्युनिटि स्कूल के टॉपर्स हुए सम्मानित

pahaadconnection

Leave a Comment