Pahaad Connection
अन्य

एशिया की सबसे अमीर महिला बनी भारत की सावित्री जिंदल

Advertisement

यांग हुआन अब एशिया की सबसे अमीर महिला नहीं हैं क्योंकि चीन के संपत्ति संकट ने देश के डेवलपर्स को प्रभावित किया है, जिसमें उनकी कंट्री गार्डन होल्डिंग्स कंपनी भी शामिल है। यांग को शुक्रवार को ब्लूमबर्ग बिलियनेयर्स इंडेक्स में भारत की सावित्री जिंदल ने पीछे छोड़ दिया, जिनके पास अपने समूह जिंदल ग्रुप की बदौलत 11.3 बिलियन डॉलर की संपत्ति है, जो धातु और बिजली उत्पादन सहित उद्योगों में शामिल है। वह साथी चीनी टाइकून फैन होंगवेई से भी नीचे फिसल गईं, जिनकी संपत्ति रासायनिक-फाइबर कंपनी हेंगली पेट्रोकेमिकल कंपनी से प्राप्त होती है।

यह यांग के लिए एक बहुत बुरी गिरावट रही है, जिसे 2005 में रियल एस्टेट डेवलपर में अपने पिता की हिस्सेदारी विरासत में मिली, जो ग्रह पर सबसे कम उम्र के अरबपतियों में से एक बन गई। पिछले पांच वर्षों से वह एशिया की सबसे अमीर महिला रही हैं, जो चीन के संपत्ति क्षेत्र के तेजी से विकास को दर्शाती है। यांग, अब अपने शुरुआती चालीसवें वर्ष में, कंट्री गार्डन का लगभग 60% और इसकी प्रबंधन-सेवा इकाई में 43% हिस्सेदारी का मालिक है।

Advertisement

72 वर्षीय जिंदल भारत की सबसे अमीर महिला हैं और करीब 1.4 अरब के देश में 10वें सबसे अमीर व्यक्ति हैं। 2005 में एक हेलीकॉप्टर दुर्घटना में उनके पति, संस्थापक ओपी जिंदल की मृत्यु के तुरंत बाद वह जिंदल समूह की अध्यक्ष बनीं। कंपनी भारत में स्टील की तीसरी सबसे बड़ी उत्पादक है और सीमेंट, एनर्जी और इंफ्रास्ट्रक्चर में भी काम करती है। हाल के वर्षों में जिंदल की कुल संपत्ति में बेतहाशा उतार-चढ़ाव आया है। अप्रैल 2020 में कोविड -19 महामारी की शुरुआत में यह गिरकर 3.2 बिलियन डॉलर हो गया, फिर अप्रैल 2022 में 15.6 बिलियन डॉलर तक पहुंच गया क्योंकि यूक्रेन पर रूस के आक्रमण ने कमोडिटी की कीमतों में बढ़ोतरी की।

Advertisement
Advertisement

Related posts

शहीद भगत सिंह की डायरी हर भारतीय को पढ़नी चाहिए और हर घर तक इसको पहुचाना चाहिए –

pahaadconnection

चारधाम यात्रा के लिए 17,92,904 यात्रियों का पंजीकरण

pahaadconnection

देहरादून : चार धाम यात्रा के दौरान मिलेगा फुल मोबाइल नेटवर्क, बनेंगे वाई फाई जोन

pahaadconnection

Leave a Comment