Pahaad Connection
Breaking News
उत्तराखंड

उत्तराखण्ड प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने किया श्रद्धांजलि सभा का आयोजन

Advertisement

देहरादून।

उत्तराखण्ड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष करन माहरा के आह्वान पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने स्व0 श्रीमती इन्दिरा गांधी के शहादत दिवस एवं सरदार बल्लब भाई पटेल जी के जन्मदिवस के अवसर पर आज प्रदेशभर के जिला, महानगर, ब्लाक एवं नगर मुख्यालयों में श्रद्धांजलि सभा एवं स्व0 श्रीमती इन्दिरा गांधी जी एवं स्व0 सरदार पटेल के विचारों पर गोष्ठी कार्यक्रम आयोजित किये गये। इसी कार्यक्रम के तहत आज उत्तराखण्ड प्रदेश कांग्रेस कमेटी कार्यालय में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष करन माहरा की अध्यक्षता में श्रद्धांजलि सभा के साथ ही स्व0 श्रीमती इन्दिरा गांधी जी एवं स्व0 सरदार पटेल के विचारों पर गोष्ठी कार्यक्रम आयोजित किया गया। इससे पूर्व कांग्रेसजनों ने लौह महिला एवं पूर्व प्रधानमंत्री स्व0 इन्दिरा गांधी जी तथा लौह पुरूष स्व0 सरदार पटेल के चित्रों पर माल्यार्पण कर उन्हें अपने श्रद्धा सुमन अर्पित किये। गोष्ठी कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष श्री करन माहरा ने भारत रत्न, पूर्व प्रधानमंत्री स्व0 श्रीमती इन्दिरा गांधी जी एवं भारत रत्न स्व0 सरदार बल्लभ भाई पटेल द्वारा देश के लिये किये गये बलिदान को याद करते हुए कांग्रेसजनों से उनके बताये मार्ग पर चलने का आवाहन किया। करन माहरा ने कहा कि आज हम राष्ट्र एवं विश्व की महान जननायिका तथा देश की एकता के लिए अपने प्राणों को न्यौछावर करने वाली त्याग और बलिदान की प्रतिमूर्ति, मात्र शक्ति स्व0 श्रीमती इन्दिरा गांधी जी एवं भारत के लौह पुरुष सरदार वल्लभ भाई पटेल को श्रद्धांजलि देने के लिए एकत्र हुए हैं। जहां स्व0 इन्दिरा जी ने अपनी प्रतिभा कौशल एवं विद्यता से देश को प्रगति के पथ पर लाने के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी तथा गरीबी निवारण के साथ-साथ बैंकों का राष्ट्रीयकरण, बीस सूत्रीय कार्यक्रम जैसे विकासोन्मुखी कार्यक्रम शुरू करने के साथ ही सामाजिक समरसता एवं सद्भाव को मजबूत बनाने की दिशा में अनेकों उल्लेखनीय कार्य किये थे। वहीं सरदार वल्लभ भाई पटेल ने देश के विभिन्न प्रान्तों के एकीकरण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हुए मजबूत भारत की नींव रखने का काम किया था। स्व0 इन्दिरा जी ने विश्व ख्याति प्राप्त करते हुए समूचे विश्व का ध्यान भारत की ओर आकर्षित किया और देश के दुश्मनों का सिर झुका कर भारत की सम्प्रभुता मानने को मजबूर किया। उन्होंने कहा कि आजादी के समय भारत देश में सुई का निर्माण भी नहीं होता था कांग्रेस पार्टी और पण्डित जवाहर लाल नेहरू की देन है कि स्व0 इन्दिरा गांधी एवं अटल बिहारी वाजपेयी जी ने परमाणु परीक्षण किया जिसके लिए प्लेटफार्म स्व0 पण्डित जवाहर लाल नेहरू जी ने तैयार किया था। स्व0 इन्दिरा गांधी जी ने देश की एकता और अखण्डता के लिए अपना सर्वोच्च बलिदान किया था जिसके लिए कृतज्ञ राष्ट्र उन्हें सदैव याद करता रहेगा। पूर्व प्रदेश अध्यक्ष श्री गणेश गोदियाल ने कहा कि हम उन सरदार पटेल और श्रीमती इन्दिरा गांधी के उत्तराधिकारी हैं, जिन्होंने आजाद भारत को पंडित नेहरू जी के साथ कंधे से कंधा मिलाकर एक सूत्र में पिरोया। कांग्रेस पार्टी ने सदैव साम्प्रदायिक सौहार्द एवं भाईचारे का वातावरण बनाने में सफलता प्राप्त की किन्तु आज कुछ विघटनकारी ताकते फिर से देश को गुलामी की ओर ले जाने का काम कर ही हैं उनका हमें डटकर मुकाबला करना है। कांग्रेस आज दावे के साथ कह सकती है कि आज बेसक हम केन्द्र व राज्य की सत्ता में न हो परन्तु विपक्ष के रूप में भी कांग्रेस लोकतांत्रिक मर्यादा में रहते हुए जनभावनाओं के अनुरूप केन्द्र व राज्य की वर्तमान सरकारों पर सही दिशा में चलने के लिए दबाव बनाये रखेगी। हम सब को मिलकर उनके बताये हुए रास्ते पर चल कर एक शक्तिशाली भारत के निर्माण के उनके सपने को साकार करने के लिए अपनी सहभागिता निभान है यही उन्हें हमारी सच्ची श्रद्धांजलि होगी। गोष्ठी को पूर्व मंत्री नवप्रभात, पूर्व मंत्री हीरा सिंह बिष्ट, प्रदेश उपाध्यक्ष मथुरादत्त जोशी, सूर्यकान्त धस्माना, महामंत्री संगठन विजय सारस्वत, पूरन सिंह रावत, भारत जोडो यात्रा की मुख्य प्रवक्ता गरिमा दसौनी, डाॅ0 प्रदीप जोशी, मीडिया पैनलिस्ट सुजाता पाॅल आदि ने भी संबोधित किया। अंत में महानगर कार्यकारी अध्यक्ष डाॅ0 जसविंदर सिंह गोगी ने सभी कांग्रेसजनों का धन्यवाद ज्ञापित किया। श्रद्धांजलि अर्पित करने वालों में पूर्व प्रदेश अध्यक्ष श्री प्रीतम सिंह, विधायक विक्रम सिंह नेगी, प्रदेश महामंत्री राजेन्द्र शाह, प्रदेश महामंत्री संजय जैन, पूर्व सैनिक विभाग के कै0 बलवीर सिंह रावत, मीडिया पैनलिस्ट राजेश चमोली, सोशल मीडिया सलाहकार अमरजीत सिंह, पीसीसी सदस्य महेन्द्र सिंह नेगी, मीडिया पैनलिस्ट सूरज नेगी, शीषपाल बिष्ट, आशा मनोरमा डोबरियाल शर्मा, जगदीश धीमान, रविन्द्र पुण्डीर, पूर्व सचिव राजेश पाण्डेय, पीसीसी सदस्य संदीप चमोली, नवनीत सती, जोत सिंह रावत, शैलेन्द्र शेखर करगेती, पूर्व पार्षद ललित भद्री, मदन कोहली, देवीदत्त कुनियाल, वीरेन्द्र पंवार, नीरज त्यागी, सावित्री थापा, मनमोहन शर्मा, मंजू, गोपाल सिंह गडिया, राकेश रावत, अनिल बसनेत, मोहन काला, शुभम चौहान, आशु, शमीम मंसूरी, आदि कांग्रेस जन शामिल थे।

Advertisement
Advertisement

Related posts

मुख्यमंत्री ने की प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से शिष्टाचार भेंट

pahaadconnection

गंगनानी बस दुर्घटना : पुलिस महानिरीक्षक ने की घायलों से मुलाकात

pahaadconnection

सेवानिवृत्ति आईएएस अधिकारी ने ली कांग्रेस पार्टी की सदस्यता

pahaadconnection

Leave a Comment