Pahaad Connection
Breaking News
Breaking Newsदेश-विदेशराजनीति

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने मीडिया, मनोरंजन तथा जन जागरूकता कार्यक्रम के क्षेत्र में अमेज़न इंडिया के साथ साझेदारी की

मनोरंजन
Advertisement

केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री श्री अनुराग ठाकुर ने इस समझौते के अवसर पर लोगों को संबोधित भी किया। उन्होंने कहा कि भारत एक प्राचीन सभ्यता है और इस वजह से भारत के इतिहास में ऐसे लाखों घटनाक्रम संरक्षित हैं, जिन्हें बताया जाना अभी शेष है।श्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि इन कहानियों का दायरा समय के साथ आगे बढ़ जाता है और यह आध्यात्मिकता से लेकर सॉफ्टवेयर तक, परंपराओं से लेकर वर्तमान चलन तक, लोक कथाओं से लेकर त्योहारों तक तथा ग्रामीण भारत से लेकर नये विकसित होते हुए भारत तक एक विशाल क्षेत्र को कवर करता है। उन्होंने कहा कि हाल के समय में भारतीय सामग्री को अंतरराष्ट्रीय मंचों पर काफी सफलता मिली है और भारतीय अभिनेताओं ने विदेशी दर्शकों के बीच अपनी उच्च लोकप्रियता हासिल की है।

केंद्रीय मंत्री ने भारत में मनोरंजन उद्योग के लिए अनुकूल माहौल बनाने के उद्देश्य से सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय द्वारा उठाए गए कदमों की चर्चा की। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार भारतीय मनोरंजन उद्योग, विशेष रूप से ओटीटी जैसे नए प्लेटफार्मों की शक्ति और इसमें निहित अवसरों को पहचानती है। श्री ठाकुर ने कहा कि सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने दृश्य-श्रव्य सेवाओं को ऊंचे दर्जे के सेवा क्षेत्र के रूप में मान्यता दी है और हाल ही में ओटीटी सामग्री विनियमन के स्व-नियामक ढांचे को प्रस्तुत किया गया है।

श्री अनुराग ठाकुर ने अमेज़न के साथ साझेदारी के बारे में कहा कि अमेज़न इंडिया के साथ साझेदारी कई मामलों में अद्वितीय है और लेटर ऑफ इंगेजमेंट रचनात्मक उद्योग के विभिन्न पक्षों तक फैला हुआ है। यह साझेदारी भारतीय फिल्म और टेलीविजन संस्थान तथा सत्यजीत रे फिल्म एवं भारतीय टेलीविजन संस्थान में छात्रों के लिए छात्रवृत्ति, इंटर्नशिप, मास्टर क्लास तथा अन्य अवसरों के प्रावधानों के माध्यम से मनोरंजन उद्योग व अकादमिक संबंधों को सशक्त करने में सहायता करेगी। उन्होंने कहा कि इस पहल से भारत के प्रतिष्ठित फिल्म संस्थानों से निकलने वाले प्रतिभाशाली कलाकारों के लिए संघर्ष की अवधि कम करने में मदद मिलेगी।

Advertisement

सूचना एवं प्रसारण मंत्री ने ओटीटी प्लेटफार्मों पर उपलब्ध कराई जा रही सामग्री की गुणवत्ता के प्रति अपनी चिंता व्यक्त की। उन्होंने कहा, ओटीटी प्लेटफार्मों की यह सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी है कि इस तरह के मंच रचनात्मक अभिव्यक्ति के नाम पर अश्लीलता एवं दुर्व्यवहार का प्रचार-प्रसार न करें। श्री ठाकुर ने यह भी कहा कि ओटीटी प्लेटफार्म को सामूहिक कल्याण तथा रचनात्मक विविधता को प्रतिबिंबित करना चाहिए।

इस कार्यक्रम में सम्मानित अतिथि श्री वरुण धवन ने स्ट्रीमिंग सेवाओं द्वारा हासिल की जा रही सफलता एवं पहुंच के बारे में जिक्र किया। उन्होंने कहा कि स्ट्रीमिंग के माध्यम से भारतीय सिनेमा अब एक अलग ही वैश्विक स्तर पर पहुंच रहा है और इस तरह की स्ट्रीमिंग सेवाओं के जरिये आज भारतीय मनोरंजन सामग्री को अप्रत्याशित दर्शकों तक पहुंच प्राप्त हो रही है। श्री धवन ने इस तत्थ्य पर प्रकाश डाला कि स्ट्रीमिंग सेवाएं एक लेवलर के रूप में कार्य करती हैं और उन्होंने कहा कि दूर-दराज से आने वाले नये कलाकारों एवं निर्माताओं की प्रतिभा अब दुनिया भर के दर्शकों तक सुलभ हो रही है।

Advertisement

इस समझौते व सहयोग के बारे में श्री धवन ने कहा कि इस तरह की साझेदारी, हमारे उद्योग एवं प्रतिभा को बढ़ावा देती है और इससे काफी सहायता मिलती है। हमारा मनोरंजन उद्योग तथा इसकी प्रतिभा मुझे उम्मीद से भर देते हैं और हम सभी को वैश्विक मनोरंजन मंच पर एक भारतीय होने का अर्थ फिर से परिभाषित करने की दिशा में कार्य करने में सहायता करता है।

इस मौके पर सूचना और प्रसारण मंत्रालय के सचिव श्री अपूर्व चंद्रा ने कहा कि सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय तथा अमेज़न इंडिया के बीच साझेदारी से भारतीय प्रतिभाओं को राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अवसर मिलेंगे।

Advertisement

अमेज़न प्राइम वीडियो में एशिया पैसिफिक के उपाध्यक्ष श्री गौरव गांधी ने कहा कि सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के साथ हमारा समग्र सहयोग मनोरंजन उद्योग के विकास को आगे बढ़ाने के लिए जीवन के हर चरण व एकीकरण के प्रत्येक कोने को देखता है और हम इसके द्वारा प्राप्त की जाने वाली उपलब्धियों को लेकर बहुत आशान्वित हैं।

इस अवसर पर अमेज़न इंडिया में लोक नीति उपाध्यक्ष श्री चेतन कृष्णास्वामी, सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय में संयुक्त सचिव श्री विक्रम सहाय तथा मंत्रालय के अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

Advertisement

सहयोग के बारे में जानकारी

लेटर ऑफ इंगेजमेंट (एलओई) मंत्रालय के अधीन विभिन्न संगठनों और अमेज़न के विभिन्न कार्यक्षेत्रों के बीच एक बहुआयामी साझेदारी की ओर आगे बढ़ता है। इनमें सरकार की तरफ से राष्ट्रीय फिल्म विकास निगम (एनएफडीसी), प्रसार भारती, प्रकाशन विभाग व भारतीय फिल्म और टेलीविजन संस्थान (एफटीआईआई) तथा सत्यजीत रे फिल्म एवं भारतीय टेलीविजन संस्थान (एसआरएफटीआई) के मीडिया प्रशिक्षण संस्थान शामिल हैं। अमेज़न की ओर से लेटर ऑफ इंगेजमेंट में अमेज़न प्राइम वीडियो, एलेक्सा, अमेज़न म्यूजिक, अमेज़न ई-मार्केटप्लेस और आईएमडीबी की भागीदारी हुई है।

Advertisement

जन जागरूकता कार्यक्रम और भारत की सांस्कृतिक विरासत को उजागर करना

अमेज़न के साथ लेटर ऑफ इंगेजमेंट में अमेज़न ई-कॉमर्स वेबसाइट द्वारा भारतीय संस्कृति पर प्रकाशन विभाग की पुस्तकों की एक समर्पित सूची के माध्यम से भारतीय विरासत को बढ़ावा मिलेगा तथा इसमें अमेज़न म्यूजिक और एलेक्सा पर भारतीय संगीत को अगले स्तर पर ले जाने की पहल भी शामिल हैं।

Advertisement

माननीय राष्ट्रपति और माननीय प्रधानमंत्री के भाषण, राष्ट्रीय महत्व की प्रमुख घटनाएं व जनहित अभियानों से संबंधित सामग्री तथा दैनिक समाचार बुलेटिन एलेक्सा और अमेज़न म्यूजिक के माध्यम से प्रसारित किए जाएंगे।

भारतीय प्रतिभा का बढ़ावा

Advertisement

अमेज़न प्राइम वीडियो (एपीवी) प्रतिभा विकास घटक के हिस्से के रूप में छात्रवृत्ति प्रायोजित करेगा, इंटर्नशिप कार्यक्रम संचालित करेगा तथा भारतीय फिल्म और टेलीविजन संस्थान व सत्यजीत रे फिल्म एवं भारतीय टेलीविजन संस्थान के छात्रों के लिए रोजगार के अवसर प्रदान करेगा। अमेज़न प्राइम वीडियो राष्ट्रीय फिल्म विकास निगम के साथ साझेदारी में कौशल निर्माण गतिविधियां आयोजित करेगा, मीडिया एवं मनोरंजन उद्योग के लिए शैक्षणिक संस्थानों में भारतीय तथा अंतरराष्ट्रीय फिल्म हस्तियों द्वारा मास्टर क्लास आयोजित करेगा और ’75 क्रिएटिव माइंड्स ऑफ टुमारो’ कार्यक्रम के विजेताओं की प्रतिभा को निखारने के अवसर भी देगा।

भारतीय प्रतिभाओं की वैश्विक खोज क्षमता बढ़ाने हेतु अमेज़न रचनात्मक उद्योग के लिए एक वैश्विक डेटाबेस आईएमडीबी पर भारतीय कलाकारों के बारे में जानकारी की उपलब्धता को आसान बनाने के उद्देश्य से एनएफडीसी के साथ कार्य करेगा।

Advertisement

एक वैश्विक मंच पर भारतीय सामग्री के प्रदर्शन के अवसर

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के साथ सहयोग के हिस्से के रूप में भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (इफ्फी) पुरस्कार विजेता फिल्में और भारत की अंतरराष्ट्रीय सह-निर्माण सहयोग गतिविधियों के भाग के तौर पर निर्मित फिल्मों को वैश्विक दर्शकों के लिए उपलब्ध कराने के उद्देश्य से अमेज़न प्राइम वीडियो द्वारा उपलब्ध कराया जाएगा। अमेज़न प्राइम वीडियो दुनिया भर में भारत की उपलब्धियों को उजागर करने वाली फिल्मों एवं वेब-सीरीज के विकास की संभावनाओं का भी पता लगाएगा।

Advertisement

अमेज़न प्राइम वीडियो तथा मिनी टीवी, देश और दुनिया भर के युवाओं तक अपनी आसान पहुंच बनाने के लिए प्रसार भारती एवं राष्ट्रीय फिल्म विकास निगम के स्वामित्व वाली समृद्ध अभिलेखीय सामग्री को इस्तेमाल करेंगे। अमेज़न प्रतिष्ठित भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (इफ्फी) और क्षेत्रीय फिल्म समारोहों में सामग्री, प्रौद्योगिकी प्रदर्शनियों, निर्माता कार्यशालाओं तथा प्रतिभाओं के वाद-संवाद के लिए राष्ट्रीय फिल्म विकास निगम के साथ सहयोग करना जारी रखेगा।

 

Advertisement
Advertisement

Related posts

“जम्मू-कश्मीर में बदलाव का लाभ युवाओं तक पहुंच रहा है”: विदेश मंत्री

pahaadconnection

केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री ने ” इंडिया हेम्प ऐक्सपो ” के लिए दी अपनी शुभकामना –

pahaadconnection

सीएम ने किया कम्प्यूटर ऑन व्हील वाहन का फ्लैग ऑफ

pahaadconnection

Leave a Comment