Pahaad Connection
Breaking News
Breaking Newsउत्तराखंड

आईबीआर कॉन्वोकेशन बना रिकॉर्ड धारकों की पहली पसंद

Advertisement

देहरादून। कॉन्वोकेशन/आईबीआर रिकॉर्ड धारकों की पहलीं पसंद बनता जा रहा है। इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स (आईबीआर) के कार्यालय आईएमटी, सेक्टर 68, फ़रीदाबाद में प्रति माह आयोजित होने वाला एक बहुप्रतीक्षित कार्यक्रम है जो रिकॉर्ड धारकों के एक बड़े वर्ग को आकर्षित कर रहा है। रिकॉर्ड होल्डर्स आगामी समारोहों में भाग लेने के लिए उत्साहपूर्वक कतार में लगे हैं। समारोह का दूसरा संस्करण भारत के विभिन्न राज्यों से पधारे रिकॉर्ड धारकों के साथ जबर्दस्त हिट रहा।
इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स की प्रबंध संपादक, नीरजा रॉय चौधरी ने इस अवसर पर कहा, “भारत भर से अपने रिकॉर्ड धारकों का स्वागत करना हमारे लिए गर्व की बात है। यह समारोह उनके जुनून और प्रतिभा को सम्मानित करने के लिए है। जिस तरह की प्रतिक्रिया हमें मिल रही है वह उत्साह बढ़ाने वाली है। देश को उच्च स्तर पर ले जाने के लिए प्रतिभा और साहस को प्रोत्साहित किया जाना जरूरी है। रिकॉर्ड-धारक असाधारण होते हैं और वे सम्मान और प्रोत्साहन के हकदार हैं।”
दूसरे कॉन्वोकेशन के रिकॉर्ड धारकों में गीता यादव, प्रिया यादव और रितु यादव (गुरुग्राम), संजय अरोड़ा, पुलिस आयुक्त (दिल्ली), सीएम विष्णव सम्राट (चित्तूर, आंध्र प्रदेश), जेटावथ मोतीलाल (नालगोंडा, तेलंगाना), दुर्गा शेषराव ठाकरे (पुणे), खुशनुमा सनोबर (देवघर, झारखंड), जिल्लर रहमान (मुर्शिदाबाद, पश्चिम बंगाल), राज कुमार शर्मा, दीपेश श्यामसुंदर बियानी (मुंबई), अथरव पोल्लई (संबलपुर, ओडिशा), कृष्णमूर्ति केएस (शिवमोगा, कर्नाटक), अलंकृता अखिल ए (अलप्पुझा, केरल), लाइजा जी (कोल्लम, केरल), एमडी गियाश उद्दीन (कामरूप, असम), डॉ. बीआर हीरेमथ, अद्वैत राम रेड्डी (बेंगलुरु), तन्वी संजयराव नलमवार (गोंडिया, महाराष्ट्र), श्रीकांत तुकाराम काजावे (कोल्हापुर), भारद्वाज डीवीआरएस (राजमुंदरी, आंध्र प्रदेश), नेहा एस कृष्णन (कोट्टायम, केरल), अर्नव राउत (खोरदा, ओडिशा), श्रेयस आरसी और सुनील वेंजारामूडु (तिरुवनंतपुरम, केरल) शामिल थे। कार्यक्रम में कुछ रिकॉर्ड धारकों ने अपनी कला का लाइव प्रदर्शन भी किया। प्रतिभागियों में बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक हर उम्र के लोग शामिल थे। श्रीमती नीरजा रॉय चौधरी ने उन्हें ट्रॉफी, स्मृति चिन्ह और उपहार देकर सम्मानित किया। फोटोशूट, मीडिया साक्षात्कार और आईबीआर कार्यालय के दौरे ने इस कार्यक्रम को सभी के लिए यादगार बना दिया। 18 नवंबर के कॉन्वोकेशन समारोह की सीटें पहले ही भर चुकी हैं और दिसंबर के समारोह हेतु बुकिंग जारी है।

Advertisement
Advertisement

Related posts

अधिकारियों को दिए आपदा राहत के कार्यों को समयबद्धता के साथ पूरा करने के निर्देश

pahaadconnection

प्रधानमंत्री ने इटली के प्रधानमंत्री से मुलाकात की

pahaadconnection

नुक्कड़ नाटक के माध्यम से पर्यावरण सुरक्षा के लिए किया जागरूक

pahaadconnection

Leave a Comment