Pahaad Connection
Breaking Newsउत्तराखंड

गाईडलाईन का अक्षरशः पालन करते हुए दायित्वों का निर्वहन करें अधिकारी : डीएम

Advertisement

देहरादून, 24 फरवरी। जिलाधिकारी/ जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमती सोनिका ने ऋषिपर्णा सभागार कलेक्टेªट में लोकसभा सामान्य निर्वाचन- 2024 की तैयारियों की समीक्षा बैठक लेते हुए नोडल अधिकारियों एवं एआरओ को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। उन्होंनें निर्देश दिए कि सभी अधिकारी अपने-अपने दायित्वों को भलीभांति समझ लें तथा निर्वाचन आयोग के निर्देश/गाईडलाईन का अक्षरशः पालन करते हुए दायित्वों का निर्वहन करें। जिला निर्वाचन अधिकारी/ जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों को निर्देशित किया कि चैकलिस्ट के अनुसार कार्य करते हुए अपने दायित्वों का निर्वहन करें। जिलाधिकारी ने  अपर जिलाधिकारी प्रशासन को निर्देशित किया कि पोलिंग स्टेशन पर व्यवस्था देखते हुए प्रतिदिन रिपोर्ट देंगे। उप जिलाधिकारी/एआरओ अपने अपने क्षेत्र में पोलिंग स्टेशन का निरीक्षण  करें, पोलिंग स्टेशन पर निर्वाचन आयोग की गाइडलाइन के अनुसार मूलभूत सुविधा सुनिश्चित  करवाएं,  यदि किसी पोलिंग बूथ पर कार्य होना है तो प्रस्ताव भेजें। उन्होंने निर्देश दिए कि जिन-जिन पोलिंग स्टेशन पर निरीक्षण के दौरान कमियां पाई गई है शाम तक रिर्पाेट दें तथा पोलिंग स्टेशन का रोडमैप बनाए। यह सुनिश्चित करें कि पोलिंग स्टेशन ग्राउंड फ्लोर पर ही हो। उन्होंने ई-डिस्ट्रिक्ट मैनेजर को निर्देश दिए कि निर्वाचन आयोग के सभी ऐप की प्रतिदिन मॉनिटरिंग करते हुए शाम को अवगत कराएंगे। उप जिलाधिकारी/एआरओ अपने स्तर पर इलेक्ट्रोल रोल की अपडेशन, डिलिटेशन को प्रतिदिन ऑनलाइन चैक कर मॉनिटरिंग करेगें। डिलीटेशन का कारण सहित वर्णित हो। नोडल पोस्टल बैलेट नोडल पीडब्ल्यूएस से समन्वय करते हुए दिव्यांग वोटर्स, 80 प्लस  का डेटा चैक कराएं। उन्होंने पुलिस थानेवार असला मिलान कराएं, हिस्ट्रीसीटर, गैरकानूनी गतिविधि के वरुद्ध चलाए जा रहे अभियान की नियमित समीक्षा करें। उन्होंने निर्देशित किया कि सभी एआरओ अपने-2 क्षेत्र में देखें यदि कहीं चुनाव बहिष्कार की सूचना आती हैं, तो उसे समय से दिखवाएं तथा उनका निस्तारण करायें। मुख्य विकास को निर्देश दिए कि न्यून वोटिंग वाले बूथ पर एआरओ से बात करें, व्यक्तिगत देखें, स्वयं सहायता समूह के माध्यम से एक्टिविटी कराएं, डोर टू डोर एक्टिविटी कराते हुए मतदान हेतु लोगों को प्रेरित करें तथा इन कार्यों की नियमित मॉनिटिरिंग करें। उन्होंने एआरओ को अपने क्षेत्र में एएमएफ, वर्नेबिलिटी मैपिंग देखें। क्रिटीकली बूथ चैक करें,उसकी सूची दें। यदि किसी बूथ पर 10 प्रतिशत् से कम वोटिंग हुई है तो वह बूथ आयोग की गाईडलाईन के अनुसार क्रिटीकली बूथ की श्रेणी वर्णित करते हुए सूचना निर्वाचन कार्यालय को भेजें। उन्होंने नोडल अधिकारी प्रशिक्षण को निर्देश दिए कि प्रशिक्षण के दौरान एआरओ, नोडल, सैक्टर, नोडल का टेस्ट भी लें जो असफल होंगे उनकी दोबारा टेस्ट लें। पोलिंग पार्टियों का प्रशिक्षण गुणवत्ता पूर्वक एवं  प्रैक्टिकल कर करवाएं। उन्होंने सभी नोडल अधिकारियों को निर्देश दिए कि अपनी-अपनी टीमों से समन्वय रखें। उन्होंने नोडल अधिकारियों को आईटी का प्रशिक्षण देने के निर्देश दिए। उन्होंने निर्देशित किया कि  निर्वाचन कन्ट्रोलरूम में प्राप्त होने वाली विभिन्न शिकायतों का त्वरित संज्ञान लेते हुए निस्तारण करें, साथ ही निर्वाचन कन्ट्रोलरूम में ऐसे कार्मिक लगाए जांए जिन्हे जानकारी हो तथा वह त्वरित प्रतिक्रिया दे सकें। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी सुश्री झरना कमठान, अपर जिलाधिकारी प्रशासन जयभारत सिंह, अपर मुख्य कार्यकारी अधिकारी तीरथपाल सिंह, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व रामजीशरण शर्मा, अपर नगर आयुक्त नगर निगम बीर सिंह बुदियाल, नगर मजिस्टेªट प्रत्युष सिंह, निदेशक ग्राम्य विकास अभिकरण विक्रम सिंह, मुख्य कोषाधिकारी रोमिल चौधरी, मुख्य व्यैक्तिक अधिकारी कलेक्टेªट वीरेन्द्र सिंह, सहायक निदेशक सूचना बी.सी नेगी, जिला विकास अधिकारी सुनिल कुमार, सहित नोडल अधिकारी उपस्थित रहे तथा उप जिलाधिकारी/एआरओ वर्चुअल माध्यम से जुड़े रहे।

 

Advertisement

 

 

Advertisement
Advertisement

Related posts

थाना रायपुर पुलिस की सतर्कता से बची बड़ी जनहानि

pahaadconnection

सचिन तेंदुलकर ने चुनाव आयोग के राष्ट्रीय आइकन के रूप में अपनी पारी शुरू की

pahaadconnection

शस्त्रों की सफाई अभियान में जुटी पुलिस

pahaadconnection

Leave a Comment