Pahaad Connection
Breaking Newsउत्तराखंडराजनीति

कांग्रेस का चरित्र है महिला विरोधी : आशा नौटियाल

Advertisement

देहरादून 4 अप्रैल। भाजपा ने कांग्रेस प्रवक्ता सुरजेवाला द्वारा हेमा मालिनी की गई अभद्र टिप्पणी को कांग्रेस की मातृ शक्ति के प्रति घटिया मानसिकता करार दिया है। महिला मोर्चा अध्यक्ष के नेतृत्व में पार्टी महिला प्रवक्ताओं की टीम ने नारी शक्ति के अपमान की लंबी फेहरिस्त सामने रखते हुए कांग्रेस पर जोरदार हमला किया। हरिद्वार रोड स्थित प्रदेश मीडिया सेंटर में पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए, महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष श्रीमती आशा नौटियाल ने मथुरा लोकसभा भाजपा प्रत्याशी हेमा मालिनी पर की गई अभद्र टिप्पणी पर कड़े शब्दों में की निंदा की है। इस दौरान मंच पर मौजूद पार्टी महिला प्रवक्ताओं के पैनल ने एक सिरे से कांग्रेस नेताओं की हरकतों पर आक्रोश चढ़ाया। श्रीमती नौटियाल के साथ महिला मोर्चा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्रीमती नेहा जोशी प्रदेश प्रवक्ता श्रीमती हनी पाठक श्रीमती सुनीता विद्यार्थी श्रीमती कमलेश रमन ने एक स्वर में कांग्रेस राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला द्वारा नारी शक्ति के अपमान को उनकी पार्टी का असली चरित्र बताया। उन्होंने कहा, कांग्रेस में महिलाओं का सम्मान नहीं होता है और अपने इस अपमान के लिए नारी शक्ति उन्हे कभी माफ नहीं करेगी। श्रीमती नौटियाल ने कांग्रेस पार्टी की मानसिकता को नारी विरोधी और नारी शक्ति का अपमान करने वाला बताया है। इसके पहले हिमाचल प्रदेश के मंडी लोकसभा के भाजपा प्रत्याशी कंगना रनाउत को लेकर भी इसी तरह का विवादित बयान सामने आया था। उनका कहना है  कि बार-बार कांग्रेस पार्टी नारी शक्ति का अपमान कर रही है इसका खामियाजा  कांग्रेस पार्टी को लोकसभा चुनाव में उठाना पड़ेगा। उन्होंने कहा कांग्रेस अपनी पार्टी के महिला कार्यकर्ताओं को चुनाव के लायक भी नहीं समझती है और मातृशक्ति का लगातार अपमान भी करती है। कांग्रेस पार्टी के नेता हार को सामने देखकर बुरी तरीके से हताश और बौखलाए हुए हैं। यही वजह है कि वह अपनी भड़ास माताओं और बहनों पर उतार रहे हैं। देश और प्रदेश की जनता किसी कीमत पर इसकी बर्दाश्त नहीं करने वाली है। इस दौरान महिला मोर्चा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष नेहा जोशी ने कहा, कांग्रेस के नीचे से लेकर ऊपर तक तमाम बड़े-बड़े नेताओं ने अक्सर महिलाओं का अपमान एवं शोषण किया है। लेकिन अफसोस पार्टी की सबसे बड़ी नेता श्रीमती सोनिया गांधी एवं लड़की हूं लड़ सकती हूं का नारा देने वाली श्रीमती प्रियंका वाड्रा की जुबान आज तक नहीं खुली। शायद यही वजह है कि उनका इशारा जानकर कांग्रेस में महिलाओं के अपमान की परंपरा बरकरार है। लेकिन देवभूमि उत्तराखंड, मातृशक्ति की भूमि है वो इन्हे माफ नही करने वाली है । लिहाजा एक बार फिर कांग्रेस को वे इन चुनाव में जबरदस्त सबक सिखाने वाली है। श्रीमती नौटियाल ने आरोप लगाया कि कांग्रेस पार्टी बार-बार महिलाओं को अपमानित करने का काम करती रही है और उसका असली चेहरा सामने आ चुका है। उन्होंने इस दौरान सिलसिलेवार ढंग से कांग्रेसी नेताओं द्वारा महिला उत्पीड़न की बड़े प्रकरणों का जिक्र किया…….. जिसमे सुरजेवाला मामले के अतिरिक्त  25 मार्च को कांग्रेस की सोशल मीडिया हेड और प्रवक्ता सुप्रिया श्रीणाते ने भाजपा प्रत्याशी और प्रसिद्ध अभिनेत्री कंगना राणावत के खिलाफ टिप्पणी करते हुए बाजारू बताया और छोटे काशी की तुलना महिलाओं की मंडी से की। उसी पहले कर्नाटक कांग्रेस के विधायक शमनूर शिवशंकरप्पा ने दावणगेरे सीट से बीजेपी की लोकसभा उम्मीदवार पर विवादित टिप्पणी करते हुए कहा कि केवल रसोई में खाना बनाना जानती हैं। इसी तरह दिल्ली पुलिस ने कांग्रेस आइटी सेल के सदस्य चिराग पटनायक को एक पूर्व सहकर्मी के साथ छेड़छाड़ के आरोप में गिरफ्तार किया। चिराग कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के काफी करीबी बताए जाते हैं। पुलिस में शिकायत दर्ज होने के बाद आइटी सेल की दो महिला सदस्यों ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। अभी हाल ही एक महिला पत्रकार ने ‘डेली ओ’ में आर्टिकल लिखा कि कांग्रेस की यूपीए सरकार के दौरान किस तरह से मीडिया के चहेते एक केन्द्रीय मंत्री उनके साथ अश्लील हरकत करते थे । राहुल गांधी ने 10 अक्टूबर, 2017 को वडोदरा में महिलाओं को लेकर अमर्यादित बयान दिया। उन्होंने पूछा था कि क्या संघ की शाखाओं में महिलाएं छोटे कपड़े (शॉर्ट्स) पहने दिखती हैं। इस बयान पर महिलाओं ने आपत्ति जताई थी। कांग्रेस नेता और राज्य सभा सांसद अभिषेक मनु सिंघवी की एक सेक्स सीडी मार्केट में आई थी जिसमें वे एक महिला वकील को जज बनवाने का लालच देते हैं । उसी कांग्रेस पार्टी ने क्यों अभिषेक मनु सिंघवी को राज्य सभा में भेजा? बाद में सिंघवी ने हाई कोर्ट में कहा कि उसने महिला से सेटलमेंट कर लिया है. वहीं मध्य प्रदेश की एक रैली में दिग्विजय ने मंदसौर की महिला सांसद मीनाक्षी नटराजन को 100 टका टंच माल कह दिया था।  राजस्थान की कांग्रेस सरकार में मंत्री और अशोक गहलोत के सबसे करीबी शांति धारीवाल ने भरी विधान सभा में कहा कि राजस्थान मर्दों का प्रदेश है। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बीजेपी की एक महिला नेता के लिए अभद्र शब्दों का प्रयोग किया है। कमलनाथ सीरियल ऑफेंडर हैं। इसके पहले भी उन्होंने विधानसभा चुनाव के दौरान महिलाओं को सजावट का सामान कहा था। शशि थरूर ने मिस वर्ल्ड का मजाक उड़ायाः मानुषी छिल्लर के मिस वर्ल्ड बनने पर कांग्रेस नेता शशि थरूर ने उन्हें चिल्लर कह कर मजाक उड़ाया। 19 नवंबर, 2017 को द्विट कर उन्होंने लिखा, ‘हमारी मुद्रा का विमुद्रीकरण करना कितनी बड़ी भूल थी! तत्कालीन कोयला मंत्री श्रीप्रकाश जायसवाल: कोयला मंत्री ने कानपुर में आयोजित एक कवि सम्मेलन में कहा था कि नई जीत एवं नये विवाह की खुशियों का अलग मजा है। उन्होंने कहा कि जैसे-जैसे समय बीतता जाता है शादी का आकर्षण खत्म हो जाता है। एक बार उन्होंने महिलाओं को रक्षा बंधन के दिन घर से न निकलने की सलाह दी थी और आगाह किया था कि इस दिन बाहर निकलने पर उनकी आबरू लुट सकती है । कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के बड़े नेता सिद्धारमैया ने सरेआम एक महिला के साथ दुर्व्यवहार किया था। रेप जैसे जघन्य अपराध को लेकर कांग्रेस की वरिष्ठ नेता रेणुका चौधरी ने बुलंदशहर में विवादित बयान दिया। रेणुका ने कहा कि “रेप तो चलते ही रहते हैं (रेप इज कॉमन)। इसके अतिरिक्त कानपुर प्रदेश उपाध्यक्ष और वरिष्ठ कांग्रेसी नेता राजाराम पाल ने 4 नवंबर, 2016 को मीडिया से मुखातिब होते हुए कहा, “पार्टी में दलित महिलाओं से भेदभाव नहीं किया जाता है। इन महिलाओं को हमारे घर के अंदर ही नहीं, बेडरूम तक आने की इजाजत है। यहां ऐसी कोई महिला नहीं है, जो हमारे बेडरूम तक न आई हो।” NSUI अध्यक्ष पर महिला कार्यकर्ता ने शारीरिक शोषण का आरोप लगाया था। इसी तरह राहुल गांधी की मौजदूगी में पत्रकार मौसमी सिंह के साथ बदसलूकी 13 अप्रैल, 2018 को जब कठुआ कांड को लेकर राहुल गांधी ने इंडिया गेट पर कैंडल मार्च निकाला तो एक महिला टीवी पत्रकार के साथ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने बदसलूकी की। कांग्रेस नेता नीलमणि सेन डेका और विधायक रूप ज्योति कुर्मी ने स्मृति ईरानी पर भद्दी टिप्पणी की थी। 2013 राजस्थान में कांग्रेस के पूर्व मंत्री बाबूलाल नागर पर 35 साल की एक महिला ने यौन शोषण का आरोप लगाया। महिला ने कहा कि बाबूलाल नागर ने सरकारी नौकरी देने के नाम पर उसका यौन उत्पीड़न किया। पुडुचेरी के कांग्रेसी मुख्यमंत्री नारायणसामी ने 31 अक्टूबर, 2019 को इंदिरा गांधी की पुण्यतिथि पर पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए प्रदेश की महिला उपराज्यपाल किरण बेदी को राक्षस कहा था। राजस्थान की कांग्रेस सरकार में मंत्री महिपाल मदेरणा पर भंवरी देवी की निर्मम हत्या और रेप के आरोप लगे थे. कांग्रेसी विधायक मलखान सिंह और इंद्रा विश्नोई पर इसकी आंच आई थी।

Advertisement
Advertisement

Related posts

1800 राजस्व पुलिस ग्राम नियमित पुलिस व्यवस्था के तहत अधिसूचित

pahaadconnection

कुशीनगर : कक्षा 3 की दस वर्षीय छात्रा का स्कूल जाते वक़्त अपहरण,इलाके में सनसनी

pahaadconnection

स्वतंत्रता दिवस के दृष्टिगत चलाया सत्यापन अभियान

pahaadconnection

Leave a Comment