Pahaad Connection
Breaking Newsउत्तराखंड

उत्तराखंड में 53.56% फीसदी मतदान

Advertisement

देहरादून। उत्तराखंड में लोकसभा चुनाव के पहले चरण की पांच सीटों पर मतदान हुआ। प्रदेश की पांच लोक सभा सीटों के लिये 55 प्रत्याशियों ने अपना भाग्य अजमाया। मतदान को लेकर सुबह से ही बूथों पर मतदाताओं की लाइन लगनी शुरू हो गई। लोकतंत्र के चुनावी महापर्व को लेकर एक तरफ जहां युवाओं में उत्साह नजर आ रहा है, वहीं बुजुर्ग मतदाता भी तमाम दिक्कतों के बावजूद पूरे उत्साह के साथ मतदान करने पहुंचे। निर्वाचन आयोग ने इस बार प्रदेश में 75 फीसदी मतदान का लक्ष्य रखा था। जिसके तहत करीब 60 लाख से अधिक मतदाताओं को मतदान की शपथ भी दिलाई गई थी। गौरतलब हैं कि 2019 में 61.50 प्रतिशत मतदान हुआ था। पांचों सीटों पर मतदान के बाद चार जून को मतगणना होगी। इस बार राज्य में 85 वर्ष से अधिक आयु के मतदाताओं और दिव्यांग मतदाताओं से घर-घर जाकर पोस्टल बैलेट के माध्यम से मतदान कराया गया था। बावजूद इसके कई बुजुर्ग मतदाताओं ने घर से मतदान के लिए मना कर दिया। जिसके बाद कई दिव्यांग और बुजुर्ग मतदान केंद्रों पर अपनों के साथ पहुंचे। पाैड़ी में 91 वर्षीय मतदाता सते सिंह रौथाण ने लोकतंत्र के महापर्व में अपनी जिम्मेदारी बखूबी निभाई। रायपुर राईका पूर्व माध्यमिक विद्यालय मतदान केंद्र में 86 वर्षीय देवकी देवी वोट डालने पहुंचीं। लोकसभा चुनाव के लिए आज सुबह सात बजे से प्रदेशभर में मतदान शुरू हुआ था, लेकिन उत्तराखंड की पांचों सीटों में से एक टिहरी गढ़वाल के एक क्षेत्र में सुबह दस बजे तक एक भी मतदाता मतदान के लिए नहीं पहुंचा था। विकासनगर चकराता तहसील क्षेत्र में दांवा-पुल खारसी मोटर मार्ग का सुधारीकरण न होने के विरोध में 12 गांव के मतदाताओं ने चुनाव का बहिष्कार कर दिया था। मिंडाल, खनाड़, मंझगांव, जोगियो और बनियाना मतदान स्थल पर सुबह से पोलिंग पार्टी मतदाताओं का इंतजार करती रही। अभी तक एक भी मतदाता मतदान स्थल पर नहीं पहुंचा। प्रशासन और विभागों की टीम ने ग्रामीणों को मतदान के लिए प्रेरित करने का प्रयास भी किया था, लेकिन ग्रामीणों ने साफ मना कर दिया। उत्तराखंड में आज लोकसभा चुनाव सुबह सात बजे से शुरू हुआ। मॉक पोल के दौरान 35 बैलेट यूनिट, 40 कंट्रोल यूनिट खराबी के चलते बदली गई। वहीं, प्रदेश में 70 पोलिंग बूथों पर वीवीपैट भी बदली गई। वहीं, प्रदेश में सुबह नाै बजे तक 10.54 फीसदी मतदान हुआ है। अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी विजय कुमार जोगदंडे ने बताया कि सभी जगह मतदान शांतिपूर्ण चल रहा है। मॉक पोल के दौरान 25 बैलेट यूनिट और 40 कंट्रोल यूनिट बदली गई। 70 बूथों पर वीवी पैट बदली गई है। इस दाैरान उत्तराखंड में चुनावी मैदान में उतरे प्रत्याशियों ने अपने-अपने बूथ स्थल पर वोट डाला। वहीं खटीमा में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने परिवार के साथ मतदान किया। टिहरी गढ़वाल में एक नवविवाहित जोड़े ने पीडब्लूडी बूथ पर अपने मताधिकार का प्रयोग किया।

अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी विजय कुमार जोगदंडे ने पत्नी श्रीमती श्रद्धा जोगदंडे संग जीआरडी पॉलिटेक्टिक राजपुर रोड में मतदेय स्थल पर मतदान किया। भाजपा प्रत्याशी माला राज्य लक्ष्मी शाह ने लोकतंत्र के महापर्व पर अपने परिवार के साथ “राष्ट्र निर्माण” के लिए, विकसित भारत संकल्प, को साकार करने के लिए मोदी जी के कुशल नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी की तीसरी बार सरकार बनाने के लिए वोट किया।

Advertisement

हरिद्वार विधानसभा के मतदान केंद्र ज्वालापुर इंटर कॉलेज में एक मतदाता ने ईवीएम मशीन का विरोध करते हुए पोलिंग बूथ पर रखी मशीन को ही नीचे पटक दिया। मतदाता जोर-जोर से चिल्लाते हुए  ईवीएम मशीन का विरोध करने लगे और बैलेट पेपर से चुनाव कराए जाने की मांग करने लगा। फिलहाल पुलिस ने मशीन तोड़ने वाले मतदाता को हिरासत में ले लिया है।

राज्य में 1,365 क्रिटिकल पोलिंग बूथ और 809 वलनरेबल पोलिंग बूथ चिह्नित किए गए थे। क्रिटिकल बूथों पर सुरक्षा इंतजाम किए गए थे, जबकि वलनरेबल बूथ ऐसे थे, जहां पिछले चुनाव में कोई हिंसात्मक घटना हुई होगी। इन पोलिंग स्टेशन पर पर्याप्त फोर्स की व्यवस्था रही। रुड़की में राजकीय इंटर कॉलेज में मतदान के लिए आई एक महिला ने चुनाव अधिकारी पर अभद्रता का आरोप लगाया। जिससे मतदान केंद्र पर हंगामा हो गया। महिला मतदान केंद्र पर पर्ची लेकर आईं थी। इस दौरान वह अपना आधार कार्ड लाना भूल गई। महिला ने चुनाव अधिकारी को मोबाइल में पड़ा अपना आधार कार्ड दिखाया। इस पर चुनाव अधिकारी भड़क गए।

Advertisement

मतदान कर्मी की बिगड़ी तबीयत

विकासनगर के श्री गुरु राम राय इंटर कॉलेज सहसपुर स्थित मतदान स्थल में मतदान कर्मी कमल सिंह (46) के अचानक सीने में दर्द की शिकायत हुई। उनको उपचार के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सहसपुर ले जाया गया। जहां से प्रभारी  चिकित्साधिकारी डॉ. मोहन डोगरा ने उन्हें दून अस्पताल रेफर कर दिया।

Advertisement

अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी विजय कुमार जोगदंडे ने बताया कि मतदान शांतिपूर्वक चल रहा है। सुबह नाै बजे तक प्रदेश में 10.54 प्रतिशत मतदान हुआ था। 11 बजे तक 24.83 प्रतिशत और दोपहर एक बजे तक 37.33% मतदान हुआ है।

उत्तराखंड में पांचों सीटों पर सुबह नाै बजे तक हुआ मतदान

Advertisement

टिहरी – 10.23%

गढ़वाल – 9.46%

Advertisement

अल्मोड़ा – 10.13%

नैनीताल – 9.83%

Advertisement

हरिद्वार – 12.49%

11 बजे तक कहां कितना मतदान हुआ

Advertisement

टिहरी – 23.23%

गढ़वाल – 24.43%

Advertisement

अल्मोड़ा – 22.21%

नैनीताल – 26.46%

Advertisement

हरिद्वार – 26.47%

उत्तराखंड में पांचों सीटों पर एक बजे तक 37.33% मतदान हुआ हैं

Advertisement

नैनीताल – 40.56%

हरिद्वार – 39.41%

Advertisement

अल्मोड़ा – 32.60%

टिहरी – 35.29%

Advertisement

गढ़वाल – 36.60%

उत्तराखंड में पांचों सीटों पर 03:00 तक मतदान प्रतिशत

Advertisement

राज्य का कुल औसत – 45.62

नैनीताल- 49.94

Advertisement

हरिद्वार – 49.62

अल्मोड़ा – 38.43

Advertisement

टिहरी  – 43.61

गढ़वाल – 44.05

Advertisement

उत्तराखंड में शाम पांच बजे तक 53.56% फीसदी मतदान हुआ।

टिहरी – 51.01%

Advertisement

गढ़वाल – 48.79

अल्मोड़ा – 44.53

Advertisement

नैनीताल – 59.36

हरिद्वार – 59.01

Advertisement

 

Advertisement
Advertisement

Related posts

विश्व उपभोक्ता अधिकार दिवस, 2023 का विषय “स्वच्छ ऊर्जा की गति से उपभोक्ताओं को सशक्त बनाना” है

pahaadconnection

राज्यपाल ने किया स्वैच्छिक रक्तदान शिविर का शुभारंभ

pahaadconnection

भारत की बेटियां, नंबर वन से कम में मानने को तैयार नहीं : पीएम

pahaadconnection

Leave a Comment