Pahaad Connection
Breaking News
Breaking Newsज्योतिष

गुरु गोचर: इन 2 राशियों के लिए बृहस्पति मजबूत होने से सभी समस्याएं खत्म – बाकी सब शुभ है

Advertisement

इन राशियों पर गुरु प्रभाव: जिनकी कुंडली में बृहस्पति मजबूत स्थिति में होता है, उन्हें अधिक लाभ कहा जाता है। साथ ही अगर कुंडली में बृहस्पति अशुभ स्थिति में हो तो परेशानियां भी बढ़ जाती हैं। इस बार गुरु के कारण 3 राशि बहुत लाभदायक है।

 

 

Advertisement

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार गुरु को शिक्षा, संतान, धार्मिक कार्यों के लिए उत्तरदायी माना जाता है। बृहस्पति की कृपा हो तो जीवन में कोई भी काम आसानी से हो सकता है।

 

Advertisement

 

पौराणिक कथाओं के अनुसार जिनकी कुंडली में गुरु मजबूत स्थिति में होता है उन्हें जीवन में सफलता मिलती है। साथ ही बृहस्पति की खराब दृष्टि के कारण भी परेशानी होगी। गुरु की स्थिति परिवर्तन का प्रभाव मेष, मिथुन और कन्या राशि के जातकों पर कहा जाता है।

Advertisement

 

 

Advertisement

 

इस राशि के जातकों के लिए बृहस्पति नवम और बारहवें भाव का स्वामी है और कहा जाता है कि इस दौरान उन्हें मिले-जुले परिणाम मिलेंगे। इससे इस राशि के जातकों का स्वास्थ्य बिगड़ सकता है।

Advertisement

 

 

Advertisement

 

कार्यों को पूरा करने में भी परेशानी हो सकती है और मानसिक तनाव बढ़ सकता है। लेकिन संतान और विवाह इस समय भाग्यशाली हैं और प्यार के मामले में भी आपको अपने परिवार की स्वीकृति मिलेगी।

Advertisement

 

 

Advertisement

 

 

Advertisement

 

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार बृहस्पति मिथुन राशि के सप्तम और दशम भाव का स्वामी है और यह समय कुंडली के ग्यारहवें भाव में गोचर कर रहा है। इस गुरु के कारण आर्थिक स्थिति में सुधार हो सकता है। साथ ही करियर में सफलता मिलेगी, व्यापार में भी वृद्धि होगी और लाभ में वृद्धि होगी।

Advertisement

 

 

Advertisement

 

इस राशि की कुंडली में बृहस्पति आठवें भाव में भ्रमण करता है। इसलिए विवाद बढ़ सकते हैं, निवेश हानिकारक हो सकता है। धन हानि होने की संभावना है। स्वास्थ्य भी बिगड़ सकता है, सावधान रहें।

Advertisement

 

Advertisement
Advertisement

Related posts

महाराज ने की भाजपा प्रदेश अध्यक्ष से मुलाकात

pahaadconnection

महिला मोर्चा ने किया नीतीश कुमार का पुतला दहन

pahaadconnection

ग्राम डुंगातोली में जागरुकता कार्यक्रम का आयोजन

pahaadconnection

Leave a Comment