Pahaad Connection
Breaking News
Breaking Newsउत्तराखंड

सेवानिवृत्ति पर विदाई समारोह का आयोजन

Advertisement

ऋषिकेश/देहरादून, 23 जुलाई। टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड के कारपोरेट कार्यालय, ऋषिकेश में टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड एवं एनएचपीसी द्वारा संयुक्त रूप से भारत सरकार के विद्युत मंत्रालय के पूर्व सचिव, आलोक कुमार (आईएएस) को उनकी सेवानिवृत्ति पर भावभीनी विदाई देने के लिए विदाई समारोह का आयोजन गर्मजोशी से किया गया। इस अवसर पर अपने संबोधन में टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड एवं एनएचपीसी के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक आरके विश्नोई ने आलोक कुमार के विशिष्ट करियर की सराहना की। उल्लेखनीय है कि आलोक कुमार उत्तर प्रदेश कैडर के 1988 बैच के आईएएस अधिकारी रहे हैं। उन्होंने बताया कि अपने तीन दशकों के कार्यकाल के दौरान आलोक कुमार ने राजस्व, परिवहन, विद्युत, हाउसिंग, शहरी नियोजन और हस्तशिल्प सहित कई क्षेत्रों में विभिन्न महत्वपूर्ण प्रशासनिक पदों पर आईएएस अधिकारी के रूप में कार्य किया है. विश्नोई ने कहा कि आलोक कुमार ने उत्तर प्रदेश सरकार के लिए ऊर्जा और अतिरिक्त ऊर्जा स्रोतों के प्रमुख सचिव के रूप में भी अपनी सेवाएं दी हैं और कपड़ा मंत्रालय में हथकरघा विकास आयुक्त के पद पर भी कार्य किया है। उन्होंने उत्तर प्रदेश सरकार के ऊर्जा विभाग के तहत राजकीय सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों के अध्यक्ष के रूप में भी कार्य किया है। आलोक कुमार फरवरी, 2021 से जून, 2023 तक भारत सरकार को अपनी सेवाएं देते हुए सचिव (विद्युत) के रूप में अपने करियर के शिखर पर पहुंचे। उनके तेजस्वी नेतृत्व और दूरदर्शी नीतियों से भारत में विद्युत क्षेत्र का पूर्ण रुपांतरण हुआ। श्री विश्‍नोई ने आगे कहा कि विद्युत क्षेत्र और देश के समग्र विकास में उनका योगदान बेहद प्रशंसनीय रहा है। समारोह में विद्युत मंत्रालय के संयुक्त सचिव श्री मोहम्मद अफजल, निदेशक श्री अशोक कुमार, टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड के निदेशक (वित्‍त) श्री जे. बेहेरा, निदेशक ( कार्मिक), श्री शैलेन्‍द्र सिंह, निदेशक (तकनीकी) श्री भूपेन्द्र गुप्ता, एनएचपीसी के निदेशक (वित्त), श्री राजेंद्र प्रसाद गोयल, निदेशक (परियोजनाएं), श्री विश्वजीत बसु और निदेशक (कार्मिक), श्री उत्तम लाल  उपस्थित रहे । इस अवसर पर टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड और एनएचपीसी के अनेक वरिष्ठ अधिकारी श्री आलोक कुमार के प्रति उनकी सेवाओं के लिए आभार व्यक्त करने तथा उनको भविष्य की शुभकामनाएं देने के लिए उपस्थित रहे। श्री आलोक कुमार ने टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड एवं एनएचपीसी के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक, श्री आर.के. विश्नोई  के द्वारा आयोजित इस विदाई समारोह के लिए उनका आभार व्यक्त किया। श्री आलोक कुमार ने कहा कि देश के समग्र आर्थिक विकास में जल विद्युत क्षेत्र का योगदान और उभरते ऊर्जा व्यवसाय परिदृश्य में टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड और एनएचपीसी की भूमिका सराहनीय है। उन्होंने कहा कि श्री आर.के. विश्नोई के सराहनीय नेतृत्व में टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड और एनएचपीसी ने हाइड्रो सेक्टर में बेंचमार्क स्थापित किए हैं । कार्यक्रम का समापन प्रसिद्ध बॉलीवुड गायिका सुश्री महालक्ष्मी अय्यर की मनमोहक प्रस्तुति के साथ हुआ। टीएचडीसीआईएल 1587 मेगावाट की संस्‍थापित क्षमता के साथ देश में प्रमुख विद्युत उत्‍पादक है, जिसमें उत्तराखंड में टिहरी बांध और एचपीपी (1000 मेगावाट), कोटेश्वर एचईपी (400 मेगावाट), गुजरात के पाटन में 50 मेगावाट और द्वारका में 63 मेगावाट की पवन ऊर्जा परियोजनाएं, उत्‍तर प्रदेश के झांसी में 24 मेगावाट की ढुकवां लघु जल विद्युत परियोजना और केरल के कासरगोड में 50 मेगावाट की सौर ऊर्जा परियोजना की सफलतापूर्वक कमीशनिंग को इसका श्रेय जाता है।

 

Advertisement
Advertisement

Related posts

FSSAI का एफओएससीओएस वेब एप्लीकेशन अब क्षेत्रीय भाषाओं में उपलब्ध होगा

pahaadconnection

सगंध पौध उत्पादन पर आधारित कार्यशाला आयोजित

pahaadconnection

पूर्व मुख्यमंत्री को दी 20 दिन के लिए बेड रेस्ट और आराम करने की सलाह

pahaadconnection

Leave a Comment