Pahaad Connection
Breaking Newsउत्तराखंड

जिला गंगा सुरक्षा समिति की बैठक आयोजित

Advertisement

देहरादून 13 अक्टूबर। ऋषिपर्णा सभागार कलेक्टेªट में जिला गंगा सुरक्षा समिति की बैठक जिलाधिकारी श्रीमती सोनिका की अध्यक्षता में आहूत हुई। जिलाधिकारी ने गंगा सुरक्षा अन्तर्गत संचालित कार्यों की समीक्षा करते हुए कार्यदायी एजेंसी एवं रेखीय विभागों के अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

जिलाधिकारी ने नगर निगम के अधिकारियों को त्रिवेणीघाट की सफाई करवाने तथा आसपास का अतिक्रमण चिन्हित कर हटाने की कार्यवाही करने के निर्देश दिए। उन्होंने नगर निगम को निर्देश दिए कि त्रिवेणीघाट पर बरसात में आई रेत को सम्बन्धित विभाग से समन्वय कर हटाने की कार्यवाही करते हुए कृत कार्यवाही से अवगत कराएं।   ऋषिकेश स्थित स्मृतिवन के प्रसार का कार्य तथा 26 एमएलडी एसटीपी के निकट खाली पड़े तालाबों पर साहसिक पर्यटन बर्ड वाचिंग के सुझाव के क्रियान्वयन में पर्यटन विभाग द्वारा किये जाने वाले कार्य लम्बित रहने पर नाराजगी जाहिर करते हुए जिला पर्यटन अधिकारी को संज्ञान लेते हुए निराकरण के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने खड़क माफ ग्राम सभा में गंगा नदी की ओर से वन्यजीवों की आमद लगातार बढने की शिकायत पर  वन विभाग को समस्या का संज्ञान लेते हुए निराकरण के निर्देश दिए। उन्होंने निर्माण अनुरक्षण ईकाई (गंगा) के कार्यों की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि संजय झील के कार्यों को इको-टूरिज्म से प्रस्तावित करें।  जिलाधिकारी ने नगर निगम को  72 सीढी पर सुधारीकरण कार्य करने तथा सफाई व्यवस्था बनाने के निर्देश दिए। पर्यावरणविद श्री जुगरान ने जिलाधिकारी के संज्ञान में लाया कि वर्षाकाल के कारण ऋषिकेश लालपानी वनबीट स्थित स्मृतिवन में भारी नुकसान हुआ है। वनक्षेत्र में प्राकृतिक रूप से जलस्रोत बन  गए हैं। जल निकासी की समुचित सुविधा नहीं होने से पौधरोपण को भी नुकसान हुआ है। दुधुपानी विस्थापित क्षेत्र में जलभराव को रोकने के लिए जो ह्यूम पाइप उखाड़े गए हैं उन्हें पुनः स्थापित कर पौधरोपण के लिए आने वालों की सुविधा हेतु अस्थाई पुलिया के निर्माण करवाने तथा स्मृतिवन स्थित शौचालय में दिव्यांगजनों की सुविधा हेतु रैंप का निर्माण किया जाने तथा वर्षाकाल में अवरुद्धमार्ग एवं कम्पोस्ट पिट का कार्य भी बन्द होने की जानकारी देते हुए संज्ञान लेने का अनुरोध किया। जिस पर जिलाधिकारी ने नगर निगम ऋषिकेश को ह्यूम पाईप पुनः स्थापित करवाने एवं  स्मृतिवन के मुख्य द्वार तक संपर्क मार्ग की व्यवस्था करने के साथ ही वनविभाग को जल निकासी के साथ ही स्मृतिवन में पशुओं की रोकथाम को खाई खुदवाने के लिए निर्देशित किया गया। बैठक में जिला विकास अधिकारी सुशील मोहन डोभाल, पर्यावरण विद विनोद जुगरान, सदस्य सुदामा सिंगल, एडीबीओ आशीष बहुगुणा, प्रोजेक्ट मैनेजर एस के वर्मा, सहायक अभियन्ता उत्तराखण्ड जल संस्थान हरीश कुमार बंसल, एसएनए ऋषिकेश चन्द्रकान्त भट्ट, नगर निगम ऋषिकेश से गुरूमीत सिंह सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

Advertisement

 

 

Advertisement

 

Advertisement
Advertisement

Related posts

भाजपा प्रत्याशी माला राज्य लक्ष्मी शाह ने किया प्रताप नगर विधानसभा क्षेत्र का भ्रमण

pahaadconnection

शरीर में खून बढ़ाने के साथ-साथ और भी कई समस्याओं में काम आता है अनार, जानिए फायदे

pahaadconnection

दून सैनिक इंस्टीट्यूट में तीसरा मेगा रोज़गार मेला आयोजित

pahaadconnection

Leave a Comment