Pahaad Connection
Breaking News
Breaking Newsउत्तराखंड

समान नागरिक संहिता : उत्तरांचल पंजाबी महासभा ने किया आभार व्यक्त

Advertisement

देहरादून। उत्तरांचल पंजाबी महासभा के प्रदेश महामंत्री हरीश नारंग ने उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि आज का दिन उत्तराखंड के लिए ऐतिहासिक दिन है, देश में उत्तराखंड राज्य पहला राज्य है जिसने आज के दिन विधानसभा के पटल पर समान नागरिक संहिता उत्तराधिकार संबंधी बिल ध्वनि मत से पारित किया।

उत्तरांचल पंजाबी महासभा के प्रदेश महामंत्री हरीश नारंग ने कहा की उत्तराखंड राज्य के लोगों के लिए हर्ष का विषय है कि हमारे राज्य में “समान नागरिक संहिता” उत्तराधिकार कानून लागू होने से सभी धर्म की महिलाओं के अधिकारों की रक्षा की जायेगी, वर्तमान में प्रभावी एवं प्रचलित व्यवस्थाओं में संपत्ति में उत्तराधिकार या वसीयत के अधिकारों में व्यापक विसंगति या असमानता रही है, उनको दूर किया जायेगा, अधिकांश प्रावधानों में मृतक की संपत्ति में माता, पति–पत्नी और बच्चों को तो अधिकार थे परंतु पिता को अधिकार नहीं दिया गया था, इसी प्रकार एक ही व्यक्ति की संतानों में लिंग के आधार पर असमानता थी, अफसोस की बात है कि विवाहित और अविवाहित पुत्री को भी अलग-अलग अधिकार थे, संपत्ति के अधिकार में पुत्र–पुत्री में व्यापक असमानता को दूर किया जाएगा। नैतिक रूप से हम देखते रहे हैं किसी महिला पुरुष के बीच रिश्ता जायज या नाजायज हो सकता है, परंतु किसी नाजायज रिश्ते से उत्पन्न होने वाली संतान जो पूर्ण रूप से निर्दोष है उसको माता-पिता की संपत्ति से वंचित रखा जाता था, यद्यपि समय के साथ सामाजिक सोच व व्यवस्था में परिवर्तन प्रारंभ हुए हैं। लेकिन समान नागरिक संहिता लागू होने से एक ही प्रयास में ऐसे निर्दोष बच्चों के सम्मान और संपत्ति के अधिकार सुरक्षित किए जाएंगे, समान नागरिक संहिता में केवल उत्तराधिकार की विसंगतियों को ही दूर नहीं किया जाएगा बल्कि वसीयत की विसंगतियों को भी दूर करते हुए सभी धर्म एवं संप्रदाय के व्यक्तियों के लिए अपनी संपत्ति एवं वसीयत के समान अधिकार दिए जायेंगे।

Advertisement

उत्तरांचल पंजाबी महासभा के प्रदेश महामंत्री हरीश नारंग ने उत्तराखंड के समस्त  पंजाबी समुदाय की ओर से राज्य के सभी धर्म जाति समुदाय वर्ग विशेष के लोगों को समान नागरिक संहिता लागू किए जाने पर राज्य के मुख्यमंत्री पुष्कर धामी का और उनकी टीम का पुनः आभार व्यक्त किया। और कहा धामी के नेतृत्व में उत्तराखंड राज्य निरंतर प्रगति की ओर अग्रसर है।

 

Advertisement

 

 

Advertisement

 

Advertisement
Advertisement

Related posts

सगंध पौध उत्पादन पर आधारित कार्यशाला आयोजित

pahaadconnection

आपदा के दौरान तुरंत प्रभावितों को रिलिफ पहुंचायें : सौरभ बहुगुणा

pahaadconnection

दीन दयाल उपाध्याय सहकारी योजना ने साढ़े आठ लाख किसानों के जीवन में किया बदलाव

pahaadconnection

Leave a Comment