Pahaad Connection
Breaking Newsउत्तराखंड

लोकसभा चुनावों की रणनीति पर विस्तार से विचार-विमर्श किया

Advertisement

देहरादून, 11 फरवरी। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की महासचिव एवं उत्तराखण्ड प्रदेश कांग्रेस प्रभारी कुमारी सैलजा ने उत्तराखण्ड दौरे के दूसरे दिन आज पार्टी के जिला एवं महानगर अध्यक्षों, लोकसभा क्षेत्रों के पर्यवेक्षकों तथा 2019 के लोकसभा प्रत्याशियों, पार्टी के अनुषांगिक संगठन, विभाग एवं प्रकोष्ठों के अध्यक्षगणों के साथ बैठक करने के साथ ही पार्टी के वरिष्ठ नेतागणों से भी लोकसभा चुनावों की रणनीति पर विस्तार से विचार-विमर्श किया।

प्रदेश कांग्रेस कमेटी कार्यालय देहरादून में प्रातः 11ः00 बजे से प्रदेश प्रभारी कुमारी सैलजा के साथ लगातार बैठकों का दौर जारी रहा जिसमें सर्व प्रथम पार्टी के सभी जिला एवं महानगर अध्यक्षों ने प्रदेश प्रभारी के साथ बैठक में अपने-अपने जनपद में पार्टी नेतृत्व के निर्देश पर चलाये जा रहे कार्यक्रमों की जानकारी देने के साथ ही पार्टी के संगठनात्मक ढांचे पर चर्चा की। प्रदेश प्रभारी ने सभी जिला एवं महानगर अध्यक्षों का आह्रवान करते हुए कहा कि पार्टी के सभी संगठनात्मक इकाइयों को आगामी लोकसभा चुनाव की तैयारी में जुटना होगा जिसके लिए पार्टी संगठन को बूथ स्तर तक मजबूती के साथ खड़ा करने की जिम्मेदारी जिला व महानगर अध्यक्षों के कंधों पर है। उन्होंने सभी संगठनात्मक जिला एवं महानगर इकाइयों को निर्देश देते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी की केन्द्र व राज्य सरकार हर मोर्चे पर विफल रही हैं उनकी इस विफलता को कांग्रेस कार्यकर्ताओं के माध्यम से घर-घर पहुंचाने का काम करना है।

Advertisement

दो दिवसीय मैराथन बैठकों के दौरान प्रदेश प्रभारी कुमारी सैलजा ने अखिल भारतीय कांग्रेस पार्टी द्वारा चलाये जा रहे डोनेट फॉर नेशन एवं डोनेट फॉर न्याय अभियान पर भी सभी नेताओं से चर्चा की तथा इन अभियानों के तहत उत्तराखण्ड राज्य में अभी तक की प्रगति पर भी विस्तार से विचार-विमर्श करते हुए अभियान को गति देने का आह्रवान किया। प्रदेश प्रभारी ने यह भी निर्देश दिये कि आने वाले समय में राज्य में नगर निकाय चुनाव भी सम्पन्न होने हैं हमें इन चुनावों में पार्टी के जमीनी स्तर पर मजबूत करने का अवसर मिलेगा। उन्होंने कहा कि यदि संगठन बूथ स्तर तक मजबूत होगा तो लोकसभा व नगर निकाय चुनाव में कांग्रेस पार्टी को निश्चित रूप से इसका लाभ मिलेगा।

प्रदेश प्रभारी कुमारी सैलजा ने प्रदेश के सभी लोकसभा क्षेत्रों के पर्यवेक्षकों के साथ हुई बैठक में फीड बैक ली तथा अभी तक की कार्य प्रगति की समीक्षा करते हुए लोकसभा चुनावों की रणनीति पर विचार-विमर्श किया तथा केन्द्रीय नेतृत्व के दिशा-निर्देशों से अवगत कराया। उन्होंने यह भी कहा कि वर्तमान सत्ताधारी दल सभी क्षेत्रों में विफल साबित हो चुका है देश में जाति व धर्म के नाम पर राजनीति कर रहा है हमें इस बात को अंतिम छोर पर बैठे मतदाता तक पहुंचाने का काम करना है। उन्होंने एक बार फिर से कांग्रेस पार्टी के सभी नेताओं का आह्रवान करते हुए कहा कि हमें कांग्रेस संगठन को बूथ स्तर तक मजबूत करने के साथ-साथ जनता को भाजपा सरकारों की विफलताओं को समझाने का काम करना है जिससे लोकसभा चुनाव में भाजपा के पाखंड का पर्दाफास हो सके।

Advertisement

प्रदेश प्रभारी ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष श्री करन माहरा एवं पार्टी के सभी वरिष्ठ नेताओं से भी अलग से बैठक कर लोकसभा चुनावों एवं नगर निकाय चुनावों तथा संगठन की आगामी रणनीति पर चर्चा करते हुए उनकी फीड बैक लेने के साथ ही उनके सुझाव लिये।

प्रदेश प्रभारी कुमारी सैलजा ने कहा कि प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में दो दिन तक चली बैठकों में आगामी लोक सभा चुनाव की तैयारी को लेकर उत्तराखंड के सभी संगठनों के साथ ही वरिष्ठ नेताओं के साथ विस्तार से चर्चा हुई। इन बैठकों में केन्द्रीय नेतृत्व के निर्देश पर प्रदेश में चलने वाले कार्यक्रमों पर भी चर्चा हुई। राज्य के कांग्रेसजनों से जो सुझाव हमें मिले हैं, उन्हें केन्द्रीय नेतृत्व के सम्मुख रखते हुए उनकी भावनाओं से अवगत कराया जायेगा।

Advertisement

बैठक में पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत, नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल, लोकसभा पर्यवेक्षक गोविन्द सिंह कुंजवाल, मंत्री प्रसाद नैथानी, विक्रम सिंह नेगी, डॉ0 जीतराम, मनीष खण्डूरी, प्रदेश उपाध्यक्ष संगठन एवं प्रशासन मथुरादत्त जोशी, महिला कांग्रेस अध्यक्ष ज्योति रौतेला, युवा अध्यक्ष सुम्मितर भुल्लर, सेवादल अध्यक्ष हेमा पुरोहित, एनएसयूआई अध्यक्ष विकास नेगी, पूर्व सैनिक अध्यक्ष कै0 बलवीर सिंह रावत, इंटक अध्यक्ष हीरा सिंह बिष्ट, एआईसीसी सदस्य, पीसीसी सदस्य, अनुसूचित जाति अध्यक्ष दर्शन लाल, बुद्धिजीवी विभाग अध्यक्ष डॉ0 प्रदीप जोशी, सत्येन्द्र पंवार, किसान कांग्रेस अध्यक्ष हरमिन्दर सिंह ढिल्लन, नरेशानन्द नौटियाल, आशीश सैनी, अनिल बसनेत, प्रेमानन्द महाजन, अनिल बसनेत सहित पार्टी के सभी जिला एवं महानगर अध्यक्षों ने अपने-अपने सुझाव दिये।

 

Advertisement

 

Advertisement
Advertisement

Related posts

मुख्यमंत्री के विजन के अनुरूप कार्मिक ऑनरशिप की भावना से कार्य करें : श्रीमती राधा रतूड़ी

pahaadconnection

एंटी नारकोटिक्स टास्क फोर्स ने चलाया जागरूकता अभियान

pahaadconnection

सीएम ने अर्पित की उत्तराखंड राज्य आन्दोलनकारी शहीदों को श्रद्धांजलि

pahaadconnection

Leave a Comment