Pahaad Connection
Breaking Newsअपराधउत्तराखंड

मृतक का दोस्त ही निकला हत्यारा

Advertisement

देहरादून, 09 मई। सेलाकुई क्षेत्रान्तर्गत बाय खाला में हुई युवक की हत्या का दून पुलिस ने खुलासा कर दिया हैं। मृतक का दोस्त ही उसका हत्यारा निकला। घटना को अजांम देने वाले अभियुक्त को दून पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया हैं। पैसे के लेन देन को लेकर हुए विवाद में युवक के दोस्त द्वारा उसके सर में ईंट मारकर युवक की हत्या की गई थी।

प्राप्त जानकारी के अनुसार 04 मई को थाना सेलाकुई को सूचना मिली कि सेलाकुई क्षेत्रान्तर्गत एक खंडर के अन्दर एक व्यक्ति अचेत अवस्था में पडा है।   इस सूचना पर तत्काल पुलिस बल मौके पर पहुंचा तथा उक्त व्यक्ति को तत्काल एम्बुलेंस के माध्यम से सरकारी अस्पताल पहुंचाया गया। जहां चिकित्सकों द्वारा उसे मृत घोषित कर दिया। मृतक के सम्बन्ध मे जानकारी करने पर उसकी शिनाख्त कामिल पुत्र सलीम निवासी सिंघनीवाला सहसपुर के रूप में हुई। प्रारम्भिक जांच में युवक के सर पर वार कर उसकी हत्या किया जाना प्रकाश में आया। मौके पर फील्ड यूनिट की टीम को बुलाकर घटनास्थल की फोटोग्राफी, वीडियोग्राफी करते हुए आवश्यक साक्ष्य संकलन की कार्यवाही की गई। मृतक के परिजनो से पूछताछ में उनके द्वारा बताया गया कि मृतक उपरोक्त ई रिक्शा चलाने का कार्य करता था तथा घटना के दिन भी ई-रिक्शा लेकर काम पर गया था। घटना के सम्बन्ध में मृतक के पिता सलीम द्वारा दी गई तहरीर के आधार पर थाना सेलाकुई पर अज्ञात अभियुक्त के विरुद्ध मुकदमा अपराध सख्या 66/2024 धारा 302 भादवि का अभियोग पंजीकृत किया गया। घटना की गम्भीरता के दृष्टिगत वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून अजय सिंह द्वारा तत्काल घटना के अनावरण तथा अभियुक्त की गिरफ्तारी के लिये आवश्यक निर्देश दिये गये। जिसके क्रम में थाना सेलाकुई पर पुलिस टीम का गठन किया गया। गठित टीम द्वारा आसपास के लोगों से घटना के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त करते हुए घटना स्थल व उसके आस-पास के क्षेत्र मे लगे सीसीटीवी कैमरों को चैक करते हुए उनकी फुटेजों का अवलोकन किया गया तो घटना के दिन मृतक अपने ई- रिक्शा से अपने एक साथी मोनू उर्फ इरशाद के साथ जाता हुआ दिखाई दिया। मोनू उर्फ इरशाद के विषय में जानकारी करने पर उसका घटना वाले दिन से ही अपने घर से फरार होना प्रकाश में आया। साथ ही पुलिस टीम को घटना स्थल के पास दोनो के बीच किसी बात को लेकर विवाद होने की भी जानकारी मिली। संदिग्धता के आधार पर पुलिस टीम द्वारा अभियुक्त इरशाद के विषय में जानकारी हेतु सुरागरसी पतारसी करते हुए स्थानीय मुखबिर तंत्र को सक्रिय किया गया तथा मुखबिर की सूचना पर आज अभियुक्त मोनू उर्फ इरशाद पुत्र इरफान अली निवासी सिंघनीवाला थाना पटेलनगर जनपद देहरादून उम्र 28 वर्ष को धूलकोट के जंगल के पास से गिरफ्तार किया गया। जिससे प्रारम्भिक पूछताछ में उसके द्वारा मृतक कामिल के सर पर ईंट से वार कर उसकी हत्या किया जाना स्वीकार किया गया। पूछताछ में अभियुक्त मोनू उर्फ इरशाद द्वारा बताया कि वह ड्राइवरी का कार्य करता है तथा मृतक से उसकी पुरानी जान-पहचान थी तथा दोनो अक्सर साथ में नशा किया करते थे। 04 मई को मृतक कामिल ने अभियुक्त को अपना पुराना लेन-देन का हिसाब करने तथा साथ में नशा करने के लिये बुलाया तथा दोनों। मृतक के ई-रिक्शा से घटना स्थल तक गये, जहां दोनो के द्वारा नशा किया गया। इस दौरान पैसों के हिसाब को लेकर उनका आपस में विवाद हो गया तथा अभियुक्त मोनू उर्फ इरशाद द्वारा मौके पर पडी ईंट से मृतक कामिल के सर पर वार कर दिया।  जिससे उसकी मौके पर ही मृत्यु हो गई। इसके पश्चात अभियुक्त मृतक का ई-रिक्शा लेकर घटना स्थल चला गया तथा आगे जाकर रास्ते में मृतक के ई-रिक्शा को सडक किनारे खडा कर अपनी खून लगी हुई टी शर्ट को ई-रिक्शा के अन्दर छिपा दिया तथा पुलिस से बचने के लिये अपने घर से फरार हो गया।

Advertisement

अभियुक्त को गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम मे उप निरीक्षक शैंकी कुमार थानाध्यक्ष सेलाकुई, पुलिस कांस्टेबल बृजेश रावत, पुलिस कांस्टेबल उपेंद्र भंडारी, पुलिस कांस्टेबल सुधीर, पुलिस कांस्टेबल मुकेश भट्ट, पुलिस कांस्टेबल मुकेश पुरी, पुलिस कांस्टेबल रणजीत राणा व पुलिस कांस्टेबल जितेंद्र सिंह (एसओजी देहात) शामिल थे।

 

Advertisement

 

 

Advertisement
Advertisement

Related posts

नौसेना स्टाफ प्रमुख ने किया नौसेना बेस कारवार में 600 आवासीय आवास का उद्घाटन

pahaadconnection

ऑटो बिक्री दिसंबर 2022: वार्डविजार्ड की जॉय ई-बाइक ने 40% की वृद्धि दर्ज की

pahaadconnection

महाराज ने दी प्रदेशवासियों को राज्य स्थापना दिवस की शुभकामनायें

pahaadconnection

Leave a Comment