Pahaad Connection
Breaking Newsअपराधउत्तराखंड

जेवरात चुराने वाले गैंग का पर्दाफाश, मां बेटा गिरफ्तार

Advertisement

टिहरी। दिन दहाड़े ज्वैलरी शाप से जेवरात चुराने वाले गैंग का पर्दाफाश करते हुए पुलिस ने एक महिला व उसके बेटे को गिरफ्तार कर लिया है। जिनके कब्जे से चुरायी गयी लाखों की ज्वैलरी भी बरामद की गयी है। मामले में महिला के देवर सहित तीन और आरोपी फरार है जिनकी तलाश जारी है।

जानकारी के अनुसार बीती 2 मई को कुलवीर सिंह द्वारा अपनी कस्बा घनसाली स्थित ज्वैलरी शॉप में दिनदहाडे हुई चोरी की वारदात के सम्बन्ध में थाना घनसाली में मुकदमा दर्ज कराया गया था। मामले में त्वरित कार्यवाही करते हुए पुलिस ने जांच शुरू कर दी गयी। जांच के दौरान सीसीटीवी खंगालने पर सामने आया कि घटना के दिन एक महिला व एक पुरुष अपने तीन अन्य साथियों के साथ एक जैन स्टेलो कार में उस दुकान में आये थे। जिस पर पुलिस ने कड़ी मशक्कत के बाद उक्त चोरी में शामिल एक महिला व उसके पुत्र को पौखाल बाजार से गिरफ्तार कर लिया गया। जिनके पास से चुरायी गयी सोने की चार मालाएं बरामद की गयी। पूछताछ में उन्होने अपना नाम सुनीता (51) पत्नी स्व. राम चन्दर निवासी अशोक विहार थाना लोनी गाजियाबाद व रितिक (19) पुत्र स्व.रामचन्दर बताया। बताया कि हम लोग कई शहरों में जगह जगह घूमकर उन ज्वैलरी शॉप को टारगेट करते हैं जिनमें कोई बुजुर्ग व्यक्ति अथवा महिला हों। हम उनको खरीददारी के बहाने से बातों में उलझाकर दुकान में रखी ज्वैलरी चालाकी से गायब कर देते हैं। महिला ने बताया कि काफी समय पहले मेरे पति का स्वर्गवास हो चुका है मेरे पांच बच्चे हैं और हम पर बहुत कर्जा हो गया है। जिसके चलते हमने 2 मई को घनसाली आकर अपने देवर सहित तीन अन्य को साथ लेकर उक्त ज्वैलरी शाप में चोरी की थी। जिसके बाद हम गाजियाबाद चले गये थे। यह सोचकर कि इनको पहाड की किसी छोटी दुकान में बेचेगें तो किसी को शक नहीं होगा, इसीलिये हम किसी आसान शिकार की तलाश में ज्वैलरी को साथ लेकर बेचने अपने साथियों के साथ यहां आ गये। पुलिस के अनुसार गिरफ्तार आरोपी शातिर किस्म के अपराधी हैं जिनके द्वारा अपने साथियों के साथ मिलकर कई शहरों में अन्य वारदातें भी की गयी हैं। मामले में महिला के देवर सहित तीन अन्य लोग फरार है जिनकी तलाश की जा रही है। बरामद ज्वैलरी की कीमत डेढ़ लाख रूपये बतायी जा रही है।

Advertisement

 

Advertisement
Advertisement

Related posts

राज्यपाल, मुख्यमंत्री पहुंचे स्टेडियम, देखी भारत-इंग्लैंड सीरीज

pahaadconnection

श्रमिकों व उनके परिवारों ने दिखायी घैर्य की पराकाष्ठा : स्वामी चिदानन्द सरस्वती

pahaadconnection

अडानी संकट पर सवाल पूछने वालों को आनंद महिंद्रा ने ट्वीट कर दिया जवाब

pahaadconnection

Leave a Comment