Pahaad Connection
Breaking News
Breaking News

Lumpy Disease: किसानों की चिंताएं दूर होंगी; लम्पी के लिए भी तैयार स्वदेशी वैक्सीन

Advertisement

आत्मनिर्भर भारत के लिए केंद्र सरकार द्वारा कई कदम उठाए जा रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जानकारी दी है कि मध्यम आयु वर्ग के कोरोना को हराने वाली भारतीय वैक्सीन की बड़ी सफलता के बाद अब भारतीय वैज्ञानिकों ने पशु रेबीज के खिलाफ एक स्वदेशी टीका विकसित किया है। वह ग्रेटर नोएडा में वर्ल्ड डेयरी समिट के उद्घाटन के मौके पर बोल रहे थे।

पीएम मोदी ने कहा कि हाल के दिनों में भारत के कई राज्यों में लम्पी नामक बीमारी के कारण पशुधन का नुकसान हुआ है। केंद्र सरकार के साथ-साथ विभिन्न राज्य सरकारें इसे नियंत्रित करने की कोशिश कर रही हैं। हालांकि, अब चिंता की कोई बात नहीं है क्योंकि भारतीय वैज्ञानिकों ने इस बीमारी के लिए एक स्वदेशी वैक्सीन विकसित कर ली है। मोदी ने यह भी कहा कि देश में पशुओं के सार्वभौमिक टीकाकरण पर जोर देने के प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि 2025 तक 100 प्रतिशत पशुओं को पैर और मुंह की बीमारी और ब्रुसेलोसिस के खिलाफ टीकाकरण का लक्ष्य रखा गया है।

Advertisement

2014 से, केंद्र सरकार ने भारत के डेयरी क्षेत्र की क्षमता बढ़ाने के लिए अथक प्रयास किए हैं। नतीजतन आज दुग्ध उत्पादन से किसानों की आय में वृद्धि की तस्वीर दिखाई दे रही है। 2014 में, भारत ने 146 मिलियन टन दूध का उत्पादन किया। अब यह बढ़कर 210 मिलियन टन हो गया है, लगभग 44 प्रतिशत की वृद्धि, मोदी ने कहा। भारत डेयरी पशुओं का सबसे बड़ा डेटाबेस बना रहा है। डेयरी सेक्टर से जुड़े हर जानवर को टैग किया जा रहा है। इसके लिए आधुनिक तकनीक की मदद से डेयरी क्षेत्र से जुड़े पशुओं की बायोमेट्रिक पहचान की जा रही है और इसे पशु आधार नाम दिया गया है।

भारत के डेयरी क्षेत्र में महिलाएं 70 प्रतिशत से अधिक कार्यबल का गठन करती हैं। इसलिए, भारतीय महिलाएं इस क्षेत्र को विकसित करने में असली नेता हैं। इतना ही नहीं, मोदी ने यह भी कहा कि भारत में डेयरी सहकारी समितियों के एक तिहाई से अधिक सदस्य महिलाएं हैं।

Advertisement
Advertisement

Related posts

जिलाधिकारी ने ग्रहण किया नगर निगम के प्रशासक का कार्यभार

pahaadconnection

डाक कांवड़ शुरू होने के बाद बड़ी संख्या में कांवड़िये पहुंचे हरिद्वार

pahaadconnection

मॉर्निंग वॉक पर मुख्यमंत्री ने किया साबरमती रिवर फ्रंट क्षेत्र का भ्रमण

pahaadconnection

Leave a Comment