Pahaad Connection
Breaking Newsउत्तराखंड

जनपद में गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य की मॉनिटिरिंग

Advertisement

देहरादून।  जिलाधिकारी श्रीमती सोनिका की अभिनव पहल- जनपद की गर्भवती महिलाओं की स्वास्थ्य सम्बन्धी हॉलचाल जानते हुए दिया जा रहा है स्वास्थ्य परामर्श।  जिलाधिकारी श्रीमती सोनिका के निर्देशन पर आज जिला प्रशासन द्वारा जनपद की गर्भवती महिलाओं की सहायता एवं उनके स्वास्थ्य सम्बन्धी परामर्श हेतु सुविधा शुरू करते हुए आईटीडीए में स्थापित  स्मार्ट सिटी कन्ट्रोलरूम के टोल फ्री न0 18001802525 पर महिलाओं के स्वास्थ्य की निगरानी बनाए रखने तथा परामर्श हेतु अभिनव पहल का शुभारम्भ किया। उन्होंने इस कार्य हेतु चिकित्सकों की निगरानी टीम बनाते हुए स्मार्ट सिटी के कन्ट्रोलरूम से दूरभाष के माध्यम से गर्भवती महिलाओं से उनके स्वास्थ्य के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त करने के साथ ही विशेषज्ञ चिकित्सकों द्वारा चिकित्सा सम्बन्धी परामर्श भी दिया जा रहा है। जिलाधिकारी ने कन्ट्रोलरूम में तैनात कार्मिक/चिकित्सकों को सख्त निर्देश दिए हैं कि जनपद में गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य की मॉनिटिरिंग करते हुए। उनकी स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी लेना सुनिश्चित करेंगे तथा महिलाओं को उनके नजदीकी चिकित्सालय में स्वास्थ्य एवं चिकित्सा उपचार दिया जाए। उन्होंने कहा कि कोई भी महिला जानकारी से वंचित न रहे इस बात को गंभीरता से लेना सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने कहा कि गर्भवती महिला अपनी समस्या एवं स्वास्थ्य सम्बन्धी परामर्श हेतु कन्ट्रोलरूम के टोल फ्री न0 18001802525 पर सम्पर्क कर सकती हैं। जिलाधिकारी ने संस्थागत प्रसव को बढावा देने तथा सुरक्षित प्रसव सुनिश्चित कराते हुए मातृ एवं शिशु मृत्यु दर में कमी लाने को निर्देशित किया। जिलाधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि जनपद में ऐसी गर्भवती महिलाओं जिनकी सम्भावित प्रसव तिथि में 15 से 20 दिवस शेष है। उन महिलाओं की नियमित मॉनिटरिंग कन्ट्रोलरूम से की जाएगी। इस हेतु कंट्रोल रूम से फॉलो अप किया जाएगा। महिलाओं को प्रसव की संभावित तिथि से पूर्व नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया जाएगा। जनपद के दुर्गम और दूरस्थ क्षेत्रों में निवासरत गर्भवती महिलाओं को एक सप्ताह पूर्व स्वास्थ्य केंद्रों के नजदीक रहने एवं भोजन की व्यवस्था की जाएगी। कंट्रोल रूम हेल्पलाइन पर गर्भवती महिलाएं वह उनके परिजन कॉल करके सुरक्षित प्रसव संबंधी व्यवस्थाओं सहित अन्य सहायता प्राप्त कर पाएंगे। इस सुविधा का उद्देश्य जनपद में संस्थागत प्रसव को बढ़ावा देना तथा सुरक्षित प्रसव को सुनिश्चित करना है।

 

Advertisement
Advertisement

Related posts

जिलाधिकारी ने दिये समस्याओं का निस्तारण करने के निर्देश

pahaadconnection

पीएम मोदी ने मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल और नए मंत्रियों को दी बधाई, ट्वीट कर दी शुभकामनाएं

pahaadconnection

कार में हुई चोरी की घटना का दून पुलिस ने किया खुलासा

pahaadconnection

Leave a Comment