Pahaad Connection
Breaking News
Breaking Newsउत्तराखंड

कांग्रेस कार्यकाल मे मिली शराब और खनन व्यवसायियों को तरजीह : चौहान

Advertisement

देहरादून 13 अक्तूबर। भाजपा के प्रदेश मीडिया प्रभारी मनवीर सिंह चौहान ने  शराब को लेकर कांग्रेस के आरोपों को बेबुनियाद बताते हुए कहा कि कांग्रेस कार्यकाल मे शराब और खनन व्यवसायियों के हितों को देखते हुए नीति बनायी गयी और उन्हे तरजीह मिली।

चौहान ने कांग्रेस को अपनी सरकार के काले इतिहास में झांकने की सलाह दी है। कांग्रेस ने राज्य में शराब नीति के नाम पर डेनिस ब्रांड और खनन नीति के नाम पर पवित्र गंगा नदी को नहर बताने का पाप किया गया। मुख्यमंत्री के सचिव माफियाओं के साथ शराब नीति बनाते कैमरे पर पकड़े गए और प्रशासनिक अधिकारियों पर खनन माफियाओं का हमला आम था। चौहान ने पलटवार करते हुए कांग्रेस को याद दिलाया कि किस तरह उनकी सरकार कहा ने शराब नीति को डेनिस नीति बनाते हुए इस एक ब्रांड के सामने पूरी तरह सरेंडर किया था। उन्होंने कहा कि घरों में शराब रखने के लाइसेंस की जिस पुरानी नीति में बदलाव की वे बात कर रहे हैं उसे 6 माह तक विभाग द्वारा जमीनी स्तर पर जांचा गया। इस नीति को लेकर मिले व्यवहारिक अनुभव और जनता के फीड बैक के बाद आबकारी विभाग ने क्वांटिटी की इस बढ़ोत्तरी को वापिस ले लिया है। उन्होंने तंज़ कसते हुए कहा कि कांग्रेस ने तो अपनी सरकार में एक ब्रांड की मोनीपोली बनाकर तब तक अपनी अपनी जेबें भरी जब तक न्यायालय का इसे रोकने का आदेश नही आया । देश ने कैमरे पर देखा, किस तरह इनकी सरकारों की शराब नीति मुख्यमंत्री के सचिव माफियाओं के साथ बैठकर बनाते थे। आज प्रदेश को ड्रग्स के नशे से बाहर निकालने के लिए भाजपा सरकार निर्णायक कार्यवाही कर रही है उसे पनपाने का काम कांग्रेस की सरकार ने खुलकर किया।

Advertisement

इसी तरह खनन नीति को लेकर लगाये आरोपों का जवाब देते हुए श्री चौहान ने कहा कि देवभूमि ने वो दौर भी देखा है जब पतित पावनी मां गंगा को कांग्रेस सरकार ने अपने आदेशों में नदी से नहर में तब्दील कर दिया था  और ये सब  खनन व्यवसाय में अवैध तरीके से पत्थर से सोना बनाने के लिए किया गया। इनकी सरकारों में बैखौफ खनन माफियाओं द्वारा प्रशासनिक अधिकारियों पर हमले होना आम बात थी।  जनता को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार पर पूर्ण भरोसा है और राज्य और राज्यवासियों के विकास के लिए वह हर संभव प्रयास करेगी।

 

Advertisement

 

 

Advertisement
Advertisement

Related posts

भगवान श्रीराम का पूरा जीवन एक दर्शन : सीएम

pahaadconnection

कोई नई राजनीतिक खिचड़ी नहीं पका रही हरक! राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात के बाद भाजपा-कांग्रेस खेमे में हड़कंप

pahaadconnection

डिजिटल अर्थव्यवस्था पर चर्चा के लिए बेंगलुरु से बेहतर कोई स्‍थल नहीं : प्रधानमंत्री

pahaadconnection

Leave a Comment